सर्दियों के मौसम में इन बिमारियों से रहे सतर्क

सर्दी का मौसम आने पर ठंड के बाद जो सबसे अधिक परेशान करता है वो है पुराना दर्द। जैसे जैसे सर्दियां लगातार बढ़ती जाती है दर्द उतना अधिक तकलीफ देता है। लेकिन अब आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

पुरानी चोट या फिर दुर्घटनाओं से तो आप पूरी तरह उभर जाते हैं लेकिन इनका दर्द ऐसे मौसम के आते ही बार-बार हमारे सामने आने लगता है। ऐसे में आपको डॉक्टर से तो सलाह अवश्य ही लेनी चाहिए लेकिन आप खुद भी कई तरीकों से इससे अवश्य निपट सकते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि ऐसे दर्द से आप किस तरह से छुटाकारा पा सकते हैं।

  • पुराने दर्द का कारण

आपको बता दे की पुराने दर्द कई विभिन्न कारकों के कारण हो सकता है। अक्सर स्थिति है कि उम्र बढ़ने के साथ सामान्य दर्द क्रोनिक तरीके कि कारण में बहुत हद तक प्रभावित कर सकता है जोड़ों और हड्डियों। अन्य सामान्य कारणों तंत्रिका को नुकसान पहुंचने और चोटों के पूरी तरह से ठीक न हो जाने के चलते ऐसा होता है।

पुराने दर्द में राहत पहुंचाने के लिए पहले दर्द क्यों और किस वजह से पैदा हो रहा है इसकी पहचान करना बहुत ही आवश्यक है। वैज्ञानिकों के मुताबिक कभी-कभी चोट पूरी तरह ठीक नहीं हो पाती या ये आपके नर्वस सिस्टम को पूरी तरह डैमेज कर देती है जिस पर ध्यान नहीं दिया जाता ऐसी स्थिति में जब भी सर्दियां आती है आपको भयंकर दर्द का सामना करना ही पड़ता है। ये दर्द भी दो तरह का होता है अगर इसका कारण चोट नहीं है इसके पीछे थकान और कमजोरी जैसे गंभीर कारण भी हो सकते हैं। पुराने दर्द के पीछे अक्सर खेल के दौरान लगी चोट, चोट लगी जगह पर दोबारा चोट लग जाना, कार दुर्घटनाओं या फिर सिरदर्द, डायबिटीज, गठिया और कैंसर भी हो सकता है।

यह भी पढ़ें:

डायबिटीज जैसे गंभीर रोग से बचने के लिए जानिए इन बातों का रखे ध्यान

इन उपायों की मदद से आप बच सकते है माइग्रेन की गंभीर बीमारी से