हो जाइये सावधान अगर आपके नाक में हो रहे है ये बदलाव

नाक श्वसन प्रणाली का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है। इसके द्वारा साफ हवा शरीर के अंदर पंहुचती है, जिससे हमारा शरीर पूर्ण्तः स्वस्थ रहता है। नाक केवल किसी तरह की स्मेल का एहसास नहीं कराता, बल्कि इससे कई तरह की स्वस्थ संबधी गंभीर समस्याओं का भी पता लगाया जा सकता है। जी हां, इसमें होने वाले अलग-अलग बदलाव विभिन्न प्रकार की बीमारियों के संकेत देते हैं। इन संकेतों से आप ब्लड प्रेशर से लेकर किडनी डैमेज होने तक की बीमारियों के बारे में पता लगा सकते हैं। आइए जानते हैं नाक में बदलाव होने पर किन-किन बीमारियों का पता चलता है।

नाक पर पिंपल्स होने पर
नाक पर सफेद-पीले रंग के पिंपल्स होना डाइजेस्टिव सिस्टम में गड़बड़ी होने का कारण हो सकते हैं। ये पिंपल्स ज्यादातर फैटी फूड लेने से होते हैं।

नाक पर सूजन होने पर
अगर किसी के नाक पर चोट लगने के बिना लंबे समय तक सूजन रहती है तो यह हार्ट और किडनी डैमेज होने का लक्षण हो सकता है।

नाक पर लाल या काले स्पॉट होना
नाक पर इस तरह के स्पॉट दिखना एक्सक्रेटरी सिस्टम और ब्लड सर्कुलेशन सिस्टम में गड़बड़ी होने का कारण होती है।

नाक की टिप सख्त होना
हार्ट, लिवर और प्रोस्टेट के आसपास फैट जमा होने पर नाक की टिप सख्त देखने को मिलती है। इसके अलावा यह संकेत मसल्स और धमिनयों के आसपास फैट जमने से भी होता है।

नाक सफेद होना
खून में कमी, लो ब्लडप्रेशर और हार्ट का सही तरह से काम न करने पर नाक में इस तरह का बदलाव देखने को मिलता है।

यह भी पढ़ें-

सेहत के लिए अजवाइन का सेवन फायदेमंद है