पर्सनल ट्रेनर का चयन करने से पहले इन बातों पर दें खास ध्यान

आज के समय में आपको ऐसे बहुत से लोग मिल जाएंगे, जो एक आकर्षक और बेहतर बाॅडी पाने के लिए पर्सनल ट्रेनर तक हायर करते हैं। बड़े-बड़े सेलिब्रिटीज से लेकर आम लोग भी आज अपनी फिजिक व अपीयरेंस को लेकर काफी काॅन्शियस हो गए हैं। लेकिन अगर आप भी अपने लिए पर्सनल ट्रेनर का चयन कर रहे हैं तो कुछ बातों का विशेष ध्यान रखें। वरना आपके पैसे और समय दोनों ही बर्बाद होगा। तो चलिए जानते हैं कैसे करें खुद के लिए पर्सनल ट्रेनर का चयन-

  • पर्सनल ट्रेनर के चयन से यह अवश्य देखें कि उसने पहले किस किसको ट्रेनिंग दी है। साथ ही उसके रिजल्ट कैसे रहे हैं। इसके लिए आप उन लोगों से बात करें। इससे आपको अपने ट्रेनर की काबिलियत का अंदाजा हो जाएगा।
  • कभी भी बिना टायल के पर्सनल ट्रेनर को हायर न करें। साथ ही ट्रायल के दौरान आप अपने ट्रेनर से इस बारे में भी बात करें कि आपकी बॉडी कैसी है और वह आपकी बॉडी पर किस तरह काम करेगा।
  • जिस तरह हर व्यक्ति का स्वभाव अलग होता है, ठीक उसी तरह उनकी फिजिक भी अलग होती है। इसलिए एक अच्छा ट्रेनर वही होता है, जो आपको आपकी बाॅडी के अनुरूप ही वर्कआउट करवाए। इसलिए अगर आपका ट्रेनर आपको ट्रायल के दौरान कोई एक्सरसाइज करवा रहा है तो आप उससे यह अवश्य पूछें कि वह एक्सरसाइज उसकी बॉडी को किस तरह फायदा पहुंचाएगी। अगर आपका ट्रेनर आपको एक्सरसाइज करवाने के साथ−साथ उसके बेनिफिट और प्रिकॉशन्स के बारे में बताता है तो इसका अर्थ है कि उसे अपने काम के बारे में जानकारी है।
  • कुछ जिम जान−बूझकर पैसा कमाने के लिए पर्सनल ट्रेनिंग की सुविधा मुहैया कराते हैं। ऐसा वह अतिरिक्त लाभ कमाने के उद्देश्य से करते हैं। इतना ही नहीं, कभी-कभी ट्रेनर भी मनी माइंडेड होते हैं। ऐसे व्यक्ति से ट्रेनिंग लेने से बचना चाहिए। दरअसल, मनी माइंडेड लोगों को अपने क्लाइंट्स की सेहत से ज्यादा पैसा कमाने की चाह होती है। ऐसे लोगों से ट्रेनिंग लेने के बाद आपको वह रिजल्ट नहीं मिल सकता, जिसकी आपको चाह होती है।
Loading...