मोर्निंग सिकनेस से हो आप परेशान, तो करे ये उपाय

गर्भावस्था के दौरान जच्चा-बच्चा को कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जच्चा यानी गर्भवती महिलाएँ खुद को कमजोर महसूस करने लगती है। इस अवस्था में महिलाओं को खुद पर ध्यान रखने की जरूरत होती है ।

मॉर्निंग सिकनेस की अवस्था में कुछ सावधानियां बरतनी आवश्यक होती है। जिसके बारे में हम नीचे बताएंगे। यहां गर्भवती महिला के साथ-साथ उनके बच्चे पर भी इसका असर देखने को मिलता है । इसलिए गर्भवती महिलाओं को मॉर्निंग सिकनेस से बचने के लिए कुछ जरूरी कदम उठाने पड़ते हैं। जिससे उनके शरीर में कैल्शियम आयरन की भरपूर मात्रा जाती है..!!

गर्भावस्था के दौरान अगर सुबह उठने पर अधिक आलस और नींद आती है तो आप ये तरीके आजमा सकती हैं|

👉 ठंडा नीम्बू पानी
अगर आपको मोर्निग सिकनेस हो रही है तो आप एक ग्लास हलके ठंडे पानी में एक नीम्बू मिलाएं और उसका सेवन करें|

👉 पैदल चलें
सुबह उठकर थोडा पैदल जरूर चलें| इससे आपकी मोर्निग सिकनेस दूर होती है|

👉 नाश्ता करें
हो सकता है कमजोरी की वजह से ऐसा हो रहा हो| इसीलिए आप नाश्ता कर लें|

👉 धूप में जाएँ
सुबह उठने के बाद पांच मिनट के लिए धूप में जाएँ| इससे आपको ये समस्या नहीं होगी|