नास्तिक लोगों से ज्यादा खुश रहते हैं आस्तिक लोग

दुनिया में तीन तरह के लोग पाए जाते हैं पहली श्रेणी होती है धार्मिक तौर पर सक्रिय लोग, दूसरे धार्मिक तौर पर निष्क्रिय लोग और तीसरी कैटगरी होती है किसी भी धर्म से नहीं जुड़े हुए लोग। ऐसे में एक शोध में पाया गया कि जो लोग भगवान को मानते हैं, भाग्य पर विश्वास रखते हैं और पूजा-पाठ करते हैं वे नास्तिक लोगों से ज्यादा खुश रहते हैं। यह रिसर्च कई देशों का डाटा इकट्ठा करके की गई है।

प्यू रिसर्च स्टडी का दावा है कि नास्तिकों की जगह आस्तिक लोग ज्यादा खुश रहते हैं. हालाकि अभी धर्म और खुशी का कोई वैज्ञानिक तर्क नहीं निकला है। लेकिन शोध के अनुसार अमेरिका में 36 फीसदी आस्तिक लोग नास्तिकों के अपेक्षा ज्यादा प्रसन्न रहते हैं। वहीं जो लोग किसी भी धर्म पर विश्वास नहीं करते हैं उनकी अपेक्षा धार्मिक प्रवृत्तियों का मानने वाले लोग खुश रहते हैं। वहीं ऑस्ट्रेलिया में भी 32 फीसदी आस्तिक लोग ज्यादा खुश रहते हैं बल्कि उनकी जीवनशैली भी बेहतर रहती है।

यह भी पढ़ें:

एल्युमिनियम फॉयल में पैक खाना बनता है इन गंभीर बीमारियों का कारण!

कमर दर्द से हैं परेशान, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे