बैक पेन का बेस्ट ट्रीटमेंट हेल्दी लाइफस्टाइल

आजकल का समय बहुत बहुत भाग दौड़ वाली जिंदगी है| इस समय में पता नहीं शरीर के कौन से अंग में कब दर्द हो जाये कोई नहीं जानता है| इतना अधिक काम, इतना ज्यादा स्ट्रेज और वर्तमान की खान-पान ने तो पूरी लाइफस्टाइल ही साफ-साफ बदलकर रख दी हैं दुनियाभर में तकरीबन 700 मिलियन से ज्यादा लोग बैक पेन से बुरी तरह परेशान हैं एक ताज़ा शोध के अनुसार यह पता चला हैं कि बैक पेन की वजह से तकरीबन 13 प्रतिशत लोगों को जल्द मरने का खतरा मंडराता रहता है।

शोध का कहना- अभी हाल ही में हुए ताज़ा शोध से यह पता चला हैं कि जो लोग स्पाइनल पेन (कमर और गर्दन) के बुरी दौर से गुजर रहे हैं उनमें तकरीबन 13 पर्सेंट अधिक जल्दी मरने के चांसेस बहुत ज्यादा रहते हैं ऑस्ट्रेलिया, सिडनी यूनिवर्सिटी के प्रमुख शोधकर्ता के मुताबिक बैक पेन एक ऐसी गंभीर समस्या हैं जो अधिकतर लोगों को बहुत लंबे समय पर परेशान करती हैं और उनकी लाइफ को भी इफेक्ट करती है।

एक्सपर्ट का कहना- सिडनी यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर के मुताबिक बहुत से लोग यह मानते हैं कि बैक पेन से जान को कोई भी खतरा नहीं हैं लगभग 84 पर्सेंट लोगों को बैक पेन लाइफ टाइम परेशान करता रहता हैं और ओल्डर ऐज में तो बहुत ही अधिक परेशानी की नौबत आ जाती है।

कमर दर्द से छुटकारा पाने का ईलाज- शोध के अनुसार यह पाया गया हैंं कि कमर दर्द के लिए पैरासिटामॉल और एंटी इंफ्लेमेट्री ड्रग्स से लेकर सर्जरी तक कोई भी ट्रीटमेंट पूरी तरह से सफल नहीं है लेकिन इनके साइड इफेक्ट्स बहुत अधिक हैं बैक पेन का सबसे बेस्ट ट्रीटमेंट हेल्दी लाइफस्टाइल होता हैं यहां तक कि फीजिकल एक्टिविटी को दिनचर्या में शामिल करना भी एक बेहतरीन इलाज है।