पान का पत्ता सर्दी-जुकाम में है लाभकरी !

आपने लोगों को पान खाते देखा होगा और खुद भी पान खाया होगा। पान पाचन क्रिया के लिए बहुत लाभकारी होता है लेकिन जब आप इस पर तंबाकू व चूना लगाते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव छोड़ता है।

गले की खराश होने पर पान की जड़ को मुलेठी के पाउडर व शहद के साथ मिलाकर खाएं। यह आपके गले की खराश को दूर करेगा।

सर्दी-जुकाम होने पर भी पान के पत्तों का प्रयोग किया जा सकता है।

मुंह में दुर्गंध आने से परेशान है तो पान के पत्तों को धोकर चबाएं। मुंह की दुर्गंध खत्म होगी।

पान आपके द्वारा खाए गए भोजन को पचाने में भी आपकी मदद करता है।

अगर आपके मुंह में छाले हो गए हैं तो भी पान के पत्तों को चबाना बहुत लाभ देता होता है। लेकिन इसे चबाने के बाद पानी से कुल्ला करना न भूलें ।

यह भी पढ़ें –

जानिये नीम की खूबियां !