तब्लीगी मरकज पर केन्द्र सरकार ने की बड़ी कार्रवाई

बताते चलें कि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गृह मंत्रालय ने जमातियों पर लगाया गया 10 साल का प्रतिबंध।

विदित हो की भारत सरकार के द्वारा कोविड-19 के कोरोना महामारी से निपटने या रोकथाम हेतू सम्पूर्ण भारत में लॉकडाउन की घोषणा की थी। खौद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगो से अपीली करा था कि आप सब अपने अपने घरों में रहे।

बताते चले कि भारत सरकार अपने लॉकडाउन के प्रथम चरण में कोरोना महामारी को रोकने में सफल भी हो गई थी,परन्तु तब्लीगी मरकज ,नई दिल्ली में स्थित मस्जिद मे मौलाना साद के साथ करीब 2200 से ज्यादा विदेशी नागरिक एवं भारत के विभिन्न राज्यों से आये मुस्लिम समाज के लोगों अब भी डटे थे। बाद में उनके विभिन्न राज्यों में वापस छिपकर जाने से कोरोना महामारी समूटे भारत में फैल गई।

👉 केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने तब्लीगी मरकज पर बड़ा फैसला लिया है। जमात में शामिल हुए सभी विदेशियों पर भारत में 10 साल तक प्रवेश निषेध कर दिया गया है।

👉 दिल्ली पुलिस की सिफारिश पर केन्द्र सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए, तब्लीगी मरकज में शामिल हुए विदेशी जमातियों पर भारत में आने पर 10 साल तक रोक लगा दी है। वहीं मौलाना साद के खिलाफ भी जांच तेज कर दी गयी है।

जानकार बताते हैं कि 2200 विदेशी जमातियों पर गृह मंत्रालय ने बैन लगाया है। वहीं मौलाना साद पर पर भी सरकार ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। मौलाना के खिलाफ जांच तेज कर दी गयी है।