Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / पारिवारिक कलह से हुई भय्यू महाराज की जिंदगी ख़त्म

पारिवारिक कलह से हुई भय्यू महाराज की जिंदगी ख़त्म

संयम और मुक्ति की सीख देने वाले भय्यू महाराज, दूसरी पत्नी और बेटी कुहू के बीच चल रहे विवाद से टूट गए थे। दोनों के बीच सुलह और सब कुछ सामान्य करने के प्रयास के बावजूद स्थिति सुधरने के बजाय बिगड़ती चली गई। मंगलवार को क्यूंकि उनकी बेटी इंदौर आने वाली थी, सभी को विवाद होने का भय सता रहा था। भभय्यू महाराज शायद जब अपनी समस्या का हल नहीं तलाश पाए तो उन्होंने ख़ुदकुशी कर ली। आज भय्यूजी महाराज का अंतिम संस्कार होगा।पहली पत्नी माधवी के निधन के बाद भय्यू महाराज ने डॉ. आयुषी से शादी करने के निर्णय बेटी कुहू से सहमति नहीं ली थी। कुहू उनकी शादी में भी शामिल नहीं हुई। डॉ. आयुषी जब पहली बार घर आईं तो कुहू के साथ उनकी कहासुनी भी हुई। भय्यू महाराज बेटी और पत्नी के बीच फंस चुके थे। उन का हर कर्मचारी इस बात से भयभीत रहता था कि घर में किसी भी वक्त बवाल मच सकता है।

Loading...

डॉ. आयुषी के माता-पिता को अपने घर के सामने ही बड़ा बंगला किराए पर देने के कारण भी कुहू नाराज थी । कुहू मंगलवार को इंदौर के बॉम्बे हॉस्पिटल पहुंची और पिता को खून से सना देख बदहवास हो गई। मां और बेटी में मारपीट न हो, इसके लिए दोनों को अलग रखा और उनके कमरों के बाहर महिला पुलिसकर्मियों को तैनात करना पड़ा।

लंदन: राजनीतिक शरण लेने की फिराक में नीरव मोदी

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *