Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / कश्मीर पर किसी भी तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं

कश्मीर पर किसी भी तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर को लेकर चल रहे विवाद को सुलझाने हेतु मध्यस्थता की पेशकश की थी।

भारत ने अमेरिका के इस प्रस्ताव पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। भारत का कहना है कि पड़ोसी देश पाकिस्तान के साथ विवाद एक द्वीपक्षीय मामला है। अतः इसमें किसी भी तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं है।

Loading...

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने अमेरिका के मध्यस्थता के प्रस्ताव पर भारत की ओर से प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ये बातें कही हैं। उन्होंने कहा कि शिमला समझौते के अनुसार भारत और पाकिस्तान के बीच द्वीपक्षीय मसले पर किसी भी तीसरे पक्ष का कोई हस्तक्षेप नहीं होगा।

उन्होंने आगे कहा कि भारत पाकिस्तान से किसी भी मसले पर चर्चा करने हेतु तथा बातचीत करने को तैयार है,बशर्ते कि पाकिस्तान को आतंकवाद का साथ छोड़ना होगा। पाकिस्तान को हिंसा और शत्रुता मुक्त माहौल का निर्माण करना होगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *