म्यांमार में तख्तापलट को बाइडेन ने बताया शर्मसार, नए प्रतिबंध लगाने की चेतावनी

भारत के पड़ोसी देश म्यामांर में सेना द्वारा किए गए तख्तापलट पर अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन खासे खफा हैं। उन्होंने इसे लोकतंत्र की ओर बढ़ते कदम पर सीधा हमला करार दिया हैं। साथ ही सोमवार को इस देश पर नए प्रतिबंध लगाने की चेतावनी भी दे दी हैं। अमेरिका ने स्टेट काउंसलर आंग सान सू ची समेत म्यामांर के शीर्ष नेताओं को सेना द्वारा सोमवार को हिरासत लेने के कदम की भी आलोचना की हैं।

बता दे म्यामांर सेना के स्वामित्व वाले टेलीविजन चैनल ‘मयावाडी टीवी’ पर सोमवार सुबह यह घोषणा प्रसारित की गई कि सेना ने एक साल के लिए देश का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है। जिसके बाद बाइडेन ने सेना द्वारा तख्तापलट, आंग सान सू ची एवं अन्य नेताओं को हिरासत में लेने और राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा को देश में सत्ता के लोकतंत्रिक हस्तांतरण पर सीधा हमला बताया और साथ ही म्यामांर पर नए प्रतिबंध लगाने की भी चेतावनी भी दी।

बाइडेन ने कहा लोकतंत्र में सेना को जनता की इच्छा को दरकिनार नहीं करना चाहिए। बर्मा के लोग लगभग एक दशक से चुनाव कराने, लोकतांत्रिक सरकार स्थापित करने और शांतिपूर्ण सत्ता हस्तांतरण पर काम कर रहे हैं, जिसका सम्मान किया जाना चाहिए। बाइडेन ने वैश्विक समुदाय से आह्वान करते हुए कहा कि वे एक स्वर में म्यामां की सेना पर दबाव डाले। बता दे अमेरिका ही नहीं बल्कि भारत समेत अन्य कई पड़ोसी देशों से तख्तापलट की निंदा की है।

यह भी पढ़े: एड़ियों के दर्द से पाएं इन घरेलू नुस्खो से छुटकारा
यह भी पढ़े: इस फिल्म में आयुष्मान खुराना के साथ मुख्य भूमिका निभाएंगी रकुल प्रीत सिंह