बिहार विधानसभा चुनाव: चर्चा में हैं ये 7 युवा चेहरे, दांव पर लगा हैं सियासी भविष्य

बिहार विधानसभा चुनावों में इस बार कई युवा चेहरे अपना भाग्य आजमा रहे हैं। एक तरफ 70 साल के नीतीश कुमार अपने सियासी अनुभव को लेकर मैदान में हैं। वहीं दूसरी तरफ तेजस्वी यादव, चिराग पासवान, पुष्पम प्रिया चौधरी, चंद्रशेखर आजाद, कन्हैया कुमार, तेजस्वी सूर्या और मुकेश सहनी जैसे युवा चेहरे अपना सियासी भविष्य तय करेंगे। चलिए जानते हैं इन युवा चेहरों के बारे में, जो इस बार के विधानसभा चुनावों में अपने पूरे जोश के साथ मैदान में हैं।

तेजस्वी यादवः  पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के पुत्र तेजस्वी चुनावों में इस बार महागठबंधन के सीएम उम्मीदवार हैं। 30 वर्षीय तेजस्वी की अगुवाई में ही राजद रणनीति से लेकर जोड़तोड़ तक के हर फैसले ले रही हैं। बिहार में राजद ही दूसरी सबसे बड़ी पार्टी हैं, जो गठबंधन में सबसे ज्यादा सीट पर लड़ेगी।

चिराग पासवान: लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राम विलास पासवान के पुत्र अभी 37 साल के हैं। बिहार के जमुई से मौजूदा सांसद चिराग पार्टी के कर्ता-धर्ता हैं। एनडीए में टिकट बंटवारे और गठबंधन संबंधी फैसले भी इस वक्त वे ही ले रहें हैं। ऐसे में उनक सियासी भविष्य भी दांव पर हैं।

पुष्पम प्रिया चौधरी: इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में एक अलग राजनीतिक विकल्प देने की तैयारी में है पुष्पम प्रिया चौधरी। उन्होंने अखबारों में इश्तहारों के जरिए खुद को सीएम उम्मीदवार भी घोषित किया हैं। उनकी उम्र 28-30 वर्ष के करीब है और इस वक्त बिहार में उनके बारे में चर्चाएं भी खूब हैं।

चंद्रशेखर आजाद: यूपी के सहारनपुर से भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद ने भी बिहार चुनाव में एंट्री मारी है। 33 वर्षीय चंद्रशेखर ने बिहार में पप्पू यादव की पार्टी के साथ गठबंधन किया है और वे बिहार विधानसभा चुनावों में दलित समाज को अपने पक्ष में करने के लिए पूरी तैयारी से लगे हुए हैं।

कन्हैया कुमार: जेनएयू से छात्र राजनीति की शरुआत करने वाले भाकपा के नेता कन्हैया कुमार 33 वर्ष के हैं। उनकी पार्टी महागठबंधन में शामिल हैं। हालांकि, वे खुद चुनाव लड़ेंगे , इस बात की संभावना कम हैं। लेकिन चुनावी प्रचार में उनका चेहरा मतदाताओं का ध्यान जरूर खींचेगा।

तेजस्वी सूर्या: 29 वर्षीय तेजस्वी सूर्या दक्षिणी बंगलुरु से भाजपा के सांसद हैं। वह भाजपा युवा मोर्चा  के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और पेशे से वकील। हाल ही में बिहार में दौरा करने वाले तेजस्वी राजद पर आक्रामक रहे। बिहार चुनाव में उनकी एंट्री हो चुकी है और वे भाजपा के लिए प्रचार करेंगे।

मुकेश सहनी: वीआईपी पार्टी के अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कल ही शीट शेयरिंग के दौरान महागठबंधन से नाता तोड़ सभी चौंका दिया था। लगभग 35 वर्षीय मुकेश सहनी की कंपनी मुंबई में फिल्मों के सेट का निर्माण करती है। पिछले लोकसभा चुनाव में भी वो काफी सक्रिय रहे थे और इस बार भी वे सक्रीय हैं।

यह भी पढ़े: इरफान पठान ने साधा धोनी पर निशाना, कहा ऐसा जिसे जानकर चौंक जाएंगे आप
यह भी पढ़े: IPL 2020: सट्टेबाज ने साधा मैच फिक्सिंग के लिए संपर्क, खिलाड़ी ने BCCI को दी सूचना