बिहार चुनाव: बीजेपी का राजद पर तीखा वार, परिवार को लाभ पहुंचाना हैं मकसद

बिहार विधानसभा चुनावों में राजनीतिक दलों का आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी हैं। इसी कड़ी में भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल राजद पर परिवारवाद का आरोप लगाया हैं। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सांसद डॉ संजय जायसवाल ने राजद पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘कुछ लोगों को राजनीति में आने का एक ही मकसद है परिवार को लाभ पहुंचाना।’ संजय ने कहा परिवारवाद को प्रश्रय देने वालों की सरकार ने बिहार को बदहाली के कगार पर ला दिया है।

जायसवाल ने जनता को 15 साल पहले बिहार की याद दिलाते हुए कहा कि राजद के शाशनकाल में चारों तरफ हाहाकार था। न सड़क थी, न बिजली। शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह चौपट हो चुकी थी। स्कूलों को तबेला बना दिया गया था। गांव के दबंग स्कूलों में अपने पशुओं को रखते थे। बच्चों को पढ़ाने के लिए शिक्षक भी नहीं थे। अमीरों के बच्चे तो प्राइवेट स्कूलों में पढ़ते थे, लेकिन गरीबों के बच्चों की पढ़ाई भगवान भरोसे थी। आज स्थितियां कितनी बदल गई हैं । स्कूलों के अच्छे भवन हैं। पढ़ाने के लिए योग्य शिक्षक हैं और पढ़ने के लिए बड़ी संख्या में बच्चे भी। विकास में परिवारवाद और जातिवाद बहुत बड़ी बाधा रही है।

उन्होंने कहा 15 साल पहले परिवारवाद और जातिवाद में लिप्त सरकार ने बिहार को काफी नुकसान पहुंचाया। लेकिन भाजपा हमेशा जाति नहीं, जमात की बात करती है और बिहार की जनता भी बिहार को परिवारवाद और जातिवाद से दूर रखना चाहती है। इसलिए बिहार को एनडीए सरकार की जरुरत हैं।

यह भी पढ़े: CM योगी की चेतावनी, नहीं सुधरे लव जिहाद वाले तो निकलेगी राम-राम की यात्रा
यह भी पढ़े: बिहार को नंबर 1 बनाना हैं लक्ष्य, मौजूदा राजनेताओं से दिलाना होगा छुटकारा: पुष्पम प्रिया