सेहत के लिए करेले का जूस बहुत लाभदायक है

सामान्यतः करेला एक कड़वी सब्जि के रूप में जाना जाता है जिसे अक्सर बहुत कम ही खाना पंसंद करतें है। लेकिन करेला मधुमेह रोगीयों के लिए एक वरदान साबित हुआ है। करेले के रस में लौह, मैग्नीशियम, पोटेशियम और विटामिन सी जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों बहुत ही प्रचुर मात्रा में होते है। इसमें खनिजों और विटामिनों के अतिरिक्त फाइबर भी प्रचुर मात्रा में होता है। करेले के ऐसे ही कुछ गुण आपकों यहां बताते है-

इंसुलिन को नियंत्रित करता है-
करेला रस मधुमेह के लिए एक बहुत ही उत्कृष्ट पेय है। यह आपके शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। स्थाई रक्त शर्करा के स्तर अंतत: वजन घटाने में भरपूर मदद करते हैं। करेले का रस आपके इंसुलिन को सक्रिय करता है। जब आपका इंसुलिन सक्रिय होता है, तो शर्करा का पर्याप्त रूप से उपयोग होगा और वसा में परिवर्तित नहीं होगा, जो वजन घटाने में अनिवार्य रूप से मदद करेगा।

कम कैलोरी-
करेला कैलोरी, वसा और कार्बोहाइड्रेट में कम है। आपको यह जानकर बहुत आश्चर्य होगा कि 100 ग्राम करेले में केवल 34 कैलोरी हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेट और वसा भी बहुत कम है।

फाइबर युक्त-
करेला घुलनशील फाइबर में बहुत समृद्ध है। ऐसा कहा जाता है कि करेले में फाइबर दैनिक मूल्य सेवन के करीब 10 प्रतिशत होते है। फाइबर समृद्ध खाद्य पदार्थ पूर्णता की भावना उत्पन्न करते हैं। चूंकि फाइबर को पचाने में बहुत लंबा समय लगता है, इसलिए आप लंबे समय तक पूर्ण महसूस करते हैं और कम खाते हैं। इसमें लगभग 89 से 94 प्रतिशत सिर्फ पानी है, जो इसे एक उत्कृष्ट गर्मी की सब्जी भी बनाता है।

यह भी पढ़ें-

अपनाएं ये आसान घरेलू नुस्खे, मिलेगा थायराइड से छुटकारा