High Uric Acid को कंट्रोल करने में मददगार है ब्लैक कॉफी, जानिये कितना पीने से होगा फायदा

आज के समय में लोग अपनी फिटनेस के प्रति अधिक सतर्क हो गए हैं, ऐसे में कई लोग डाइट में ज्यादा से ज्यादा प्रोटीनयुक्त भोजन को शामिल करते हैं। हालांकि, जरूरत से ज्यादा प्रोटीन का इस्तेमाल भी सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। प्यूरीन नाम के प्रोटीन के अधिक सेवन से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है। आमतौर पर ये एसिड यूरिन के मार्ग से शरीर से बाहर निकल जाता है लेकिन कुछ स्थिति में जब ये नहीं निकल पाता है तो शरीर में यूरिक एसिड की अधिकता के कारण लोगों को कई शारीरिक समस्याएं हो जाती हैं। मोटापा तो कई बार ज्यादा स्ट्रेस लेने से भी यूरिक एसिड हाई हो जाता है, ऐसे में इसके स्तर को कंट्रोल करने के लिए ब्लैक कॉफी का सेवन फायदेमंद हो सकता है।

कई स्वास्थ्य परेशानियों को देता है बुलावा: आज के समय में खराब जीवन शैली व लापरवाह खानपान के कारण लोगों के शरीर में यूरिक एसिड का स्तर ज्यादातर समय बढ़ा हुआ ही रहता है। इस कारण कई स्वास्थ्य समस्याएं इन्हें अपना शिकार बना सकती हैं। हाई यूरिक एसिड के वजह से कम उम्र में ही लोगों को जोड़ों में दर्द, उठने-बैठने में तकलीफ, हाथ-पैर में सूजन की परेशानी से जूझना पड़ता है। इसके अलावा, यूरिक एसिड बढ़ने से ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, गठिया और थायरॉयड का खतरा भी बढ़ जाता है।

ब्लैक कॉफी हो सकता है फायदेमंद: ब्लैक कॉफी में एक एंटी-ऑक्सीडेंट होता है जिसका नाम क्लोरोजेनिक एसिड है, ये शरीर में इंसुलिन रेजिस्टेंस को बेहतर बनाने में मदद करता है। कई अध्ययनों में इस बात पर मुहर लगाई गई है कि ब्लैक कॉफी यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में रामबाण है। आमतौर पर यूरिक एसिड को नियंत्रित करने के लिए डॉक्टर्स मरीजों को अपनी डाइट में अधिक से अधिक पेय पदार्थ शामिल करने की सलाह देते हैं। ऐसे में ब्लैक कॉफी का सेवन भी इन मरीजों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

कितना पीना होगा असरदायक: कॉफी के स्वास्थ्य गुणों से ज्यादातर लोग परिचित हैं, ऐसे में इस परेशानी को कंट्रोल करने के लिए भी लोग दूध वाली कॉफी का सेवन करने लगते हैं। हालांकि, स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार हाई यूरिक एसिड के मरीजों को केवल ब्लैक कॉफी का ही सेवन करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि दूध वाली कॉफी पीने से इन मरीजों को डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है।

यह भी पढ़े-

Diabetes के मरीज भूलकर भी ना करें आम का सेवन, जानिये और किन फूड्स को करें अवॉयड