दिल को बीमार कर सकती हैं कैंसर की दवाएं

कैंसर से लड़ने के लिए जो पावरफुल दवाएं इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए दी जाती हैं, वे आपके दिल को नुकसान पहुंचा सकती हैं। ऐसा कहना है डॉक्टरों का।

कैंसर के एक फीसदी से कम मामलों में ऐसा देखा गया कि कैंसर की दवा लेने वालों को दिल की बीमारी भी हो गई और दवा का असर घातक है। जिन लोगों को ये दवाएं दी जा रही हैं उनके लिए ये जानलेवा भी साबित हो सकती हैं। अबतक ये दवाएं कई कैंसर मरीजों के दिल पर असर डालकर उनकी जान ले चुकी हैं। जान जाने का खतरा उस वक्त ज्यादा बढ़ जाता है जब मरीज एक साथ दो अलग-अलग चेकपॉइंट इनहिबिटर्स लेते हैं।

वैन्डरबिट स्कूल ऑफ मेडिसिन के डॉक्टर  ने कहा, ‘जीवनरक्षक दवाओं से जुड़ी यह नई समस्या है।’ हलांकि, उन्होंने यह भी कहा कि इस स्टडी से कैंसर मरीजों को डरना नहीं चाहिए और इन दवाओं में कैंसर को ठीक करने की झमता है।

मार्केट में 4 तरह के चेकपॉइंट इनहिबिटर्स मिलते हैं- इपिलिमुमाब(ब्रांड का नाम- वर्वॉय), निवोलुमाब(ओपडिवो), पेमब्रोलिजुमाब(केट्रुडा) और एटेजोलिज़ुमाब(टेसेन्ट्रिक)। इस साइड इफेक्ट को देखते हुए अस्पताल ज्यादा सतर्क हो गए हैं।