Breaking News
Home / सम्पादकीय

सम्पादकीय

5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए निर्णय लेना जारी रखेगी सरकार

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि सरकार 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए निर्णय लेना जारी रखेगी। प्रधानमंत्री ने वाराणसी में आज दोपहर एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि पारंपरिक हस्तशिल्प दस्‍तकारों, शिल्पियों और एमएसएमई को सुविधा उपलब्‍ध कराने और मजबूत करने से इस लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी। …

Read More »

इकोनॉमिक सर्वे 2019-20: भारत को 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनाने के लिए व्यापार अनुकूल नीति को प्रोत्साहन देना महत्वपूर्ण

आर्थिक समीक्षा 2019-20 के अनुसार भारत की 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की आकांक्षा व्यापार अनुकूल नीतियों को बढ़ावा देने पर आधारित है जो एक तरफ सम्पत्ति निर्माण के लिए प्रतिस्पर्धि बाजारों की शक्ति का उपयोग करता है और दूसरी तरफ मिलीभगत वाली नीतियों को समाप्त करता है जो कुछ निजी हितों विशेषकर शक्तिशाली कम्पनियों/व्यक्तियों का समर्थन करता है। केन्द्रीय …

Read More »

भारत में बीजेपी का शासन पाकिस्तान के लिए बहुत बड़ा खतरा, पाकिस्तान थिंक टैंक ने किया खुलासा

पाकिस्तान थिंक टैंक की रिपोर्ट के अनुसार वहां कहा गया है कि 2019 पाकिस्तान और भारत के रिश्ते के लिए बेहद खराब रहा है। पिछले साल दोनों देशों में तनाव बहुत अधिक बड़े हैं। भारत के साथ-साथ पाकिस्तान का अधिकतर समय विवादों को निपटाने में लगा रहा है। धीमी आवाज में इस रिपोर्ट में यह तक कहा गया कि अगर …

Read More »

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने जेपी नड्डा, जानिए उनके जीवन से जुड़ी ये खास बातें

देश की सबसे बड़ी और ताकतवर पार्टी की कमान अब जगत प्रकाश नड्डा को सौंप दी जाएगी । जेपी काफी लंबे समय से पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े हुए है। वह प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के काफी नजदीक मानें जाते है। जेपी नड्डा ने बतौर कार्यकर्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को ज्वाइन किया था। एक समान्य …

Read More »

वीर सावरकर के जीवन चरित को पाठ्य पुस्तकों में किया जाय शामिल: वेंकैया नायडू

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने आज वीर सावरकर और देश के विभिन्न हिस्सों के स्वतंत्रता संग्राम के अन्य नायकों की जीवन गाथाओं को स्कूल पाठ्यपुस्तकों में शामिल करने का सुझाव दिया है। पोर्ट ब्लेयर म्युनिसिपल काउंसिल (पीबीएमसी) द्वारा उनके सम्मान में आयोजित नागरिक अभिनंदन समारोह में उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में अंडमान की सेलुलर जेल की ऐतिहासिक भूमिका भी …

Read More »

क्या विचारधारा के स्तर पर बंट चुकी है शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी?

महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने मिलकर सरकार बनाई। सरकार बनने के कुछ दिनों बाद ही तीनों पार्टियों में विचारधारा को लेकर बवाल होने लगे है। तीनों राजनितिक पार्टियां अपने-अपने विचारों को लेकर एक-दूसरे पर आए दिन बयानबाजी करती रहती है। विवाद ज्यादा तब बड़ा जब राहुल गांधी ने दिल्ली के रामलीला मैदान से अपनी के रैली को सबोंधित …

Read More »

दोबारा नही होने देगें गांधी की हत्याः यशंवत सिन्हा

गुरुवार को कांग्रेस और महाराष्ट्र की पार्टी एनसीपी ने मुंबई के गेटवे ऑफ इडिया पर गांधी यात्रा की शुरआत की। इसमें एनसीपी प्रमुख शरद पवार, वंचित बहुजन अघाड़ी के प्रकाश अबेड़कर और अटल सरकार में वित्त मंत्री रहे यशंवत सिन्हा मौजूद थे। यशवंत सिन्हा ने केन्द्र का मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि हम देश में दोबार गांधी …

Read More »

ईरान और अमेरिका के बीच बढ़े तनाव के लिए यह चार घटनाक्रम हैं जिम्मेदार

अमेरिका और ईरान के बीच विवाद की शुरुआत आज नहीं बल्कि आज से 66 साल पहले ही हो चुकी है। इसके बाद समय-समय पर इस तरह के घटनाक्रम होती रहे हैं। जिसने इन तनाव और विवादों को और अधिक बढ़ा दिया है। अमेरिका और ईरान के बीच जारी तनाव ने विश्व में युद्ध का खतरा बढ़ा दिया है। पिछले दिनों …

Read More »

ईरान के शीर्ष कमांडर कासिम सुलेमानी के मौत से पूरे विश्व पर पड़ेगा ये असर

पिछले शुक्रवार अमेरिका ने ईरान के शीर्ष कमांडर कासिम सुलेमानी को एयरपोर्ट से निकलते समय मार गिराया। इनकी मौत के बाद ईरान और अमेरिका के बीच तनाव का माहौल बढ़ गया है। माना जा रहा है इराक के अमेरिकी दूतावास में हाल ही में हुए रॉकेट हमले के पीछे ईरान का हाथ है। अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने भी ईरान …

Read More »

भारत में प्रदूषण की गंभीर स्थिति: कितनी तैयार है भारतीय सरकार और आम जनता?

environmental-protection-

भारत में प्रदूषण की स्थिति सबसे गंभीर है। प्रदूषण की वजह से लाखों लोगों के स्वास्थ्य में असर हो रहा है और लोग इससे मर तक रहे है। फिर भी यह मुद्दा ना ही तो मीडिया के लिए महत्वपूर्ण है, ना सरकार के लिए। अपने देश के सुरक्षित भविष्य की कल्पना के लिए हमें अभी से ही प्रदूषण को लेकर …

Read More »