Breaking News
Home / छत्तीसगढ़ / 82 प्रतिशत आरक्षण देने वाला देश का पहला राज्य बना छत्तीसगढ़

82 प्रतिशत आरक्षण देने वाला देश का पहला राज्य बना छत्तीसगढ़

रायपुर। CM भूपेश बघेल ने कहा है कि अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति का आरक्षण बढ़ाकर हमने उनके प्रति कोई एहसान नहीं किया है बल्कि उन्हें उनका संविधान प्रदत्त अधिकार देने का काम किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी समूहों को मिलाकर छत्तीसगढ़ में आरक्षण अब 82 प्रतिशत हो गया है। छत्तीसगढ़ देश में सबसे ज्यादा आरक्षण प्रदान करने वाला पहला राज्य हो गया है। इससे वंचित समाज मजबूत होगा।

उन्होंने कहा कि आरक्षण बढ़ाकर हमारी सरकार ने बाबा साहब अम्बेडकर और बी.पी.मण्डल के सपनों को साकार किया है। श्री बघेल आज जिला मुख्यालय बलौदाबाजार के दशहरा मैदान में 102 करोड़ रूपये से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपजून करने के बाद आयोजित अभिनंदन एवं आभार समारोह को मुख्य अतिथि की आसंदी से सम्बोधित कर रहे थे।

Loading...

आरक्षण की सीमा अन्य पिछड़े वर्गों के लिए 14 प्रतिशत से बढ़ाकर 27 प्रतिशत और अनुसूचित जाति का 12 प्रतिशत से बढ़ाकर 13 प्रतिशत करने पर छत्तीसगढ़िया सर्व समाज महासंघ द्वारा मुख्यमंत्री का सम्मान एवं आभार प्रकट किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2021 की जनगणना में अनुसूचित जाति की जितनी प्रतिशत जनसंख्या होगी, उतना आरक्षण दिया जाएगा। फिलहाल वर्ष 2011 की जनगणना में 13 प्रतिशत आबादी उनकी है। उन्होंने कहा कि संविधान के अनुरूप काम करते हुए हमने 10 प्रतिशत आरक्षण गरीब सवर्ण को भी दिए हैं।

यह भी पढ़ें: डोमेस्टिक पर्यटकों को मिलेगा सम्पूर्ण स्वदेश भ्रमण का लाभ

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *