चीन ने पाकिस्तान के लिए तैयार किया एक और युद्धपोत, PNS तैमूर किया गया कमीशन

चीन ने पाकिस्तान की नौसेना के लिए सेकेंड टाइप 054A/P फ्रिगेट PNS तैमूर को तैयार कर दिया है। चीनी सरकारी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक PNS तैमूर को 23 जून को शंघाई के हुडोंग-झोंगहुआ शिपयार्ड में कमीशन किया गया है। रिपोर्ट्स बताती हैं कि पाकिस्तान ने चीन को 2017 के एक सौदे के तहत PNS तैमूर बनाने का आर्डर दिया था।

दो महीने की देरी से कमीशन हुआ है PNS तैमूर

PNS तैमूर को चीन को अप्रैल 2022 में ही पाकिस्तान को सौंपना था लेकिन चीन में कोरोना वायरस के बढ़े संक्रमण के कारण इसमें दो महीने की देरी हुई है। बता दें कि नवंबर 2021 में पाकिस्तान की नौसेना आने पहली बार चीन द्वारा बनाए गए युद्धपोत PNS तुगरुल को अपने बेड़े में शामिल किया था।

PNS तैमूर के बारे में जानिए

PNS तैमूर के बारे में अभी विशेष जानकारी नहीं मिल सकी है लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक PNS तैमूर में एडवांस इलेक्ट्रॉनिक रडार सिस्टम लगा हुआ है। इस युद्धपोत में भारी मारक और निगरानी क्षमता है। यह युद्धपोत एंटी-एयर, एंटी-सरफेस और एंटी-सबमरीन ऑपरेशंस को सफलतापूर्वक अंजाम दे सकता है।

पाक की मदद कर भारत को घेरना चाहता है चीन?

मामले को लेकर पाकिस्तान के एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह लंबे वक्त से चली आ रही चीन-पाकिस्तान दोस्ती में नए अध्याय के समान है। बता दें कि पिछले कुछ सालों में पाकिस्तान और चीन के बीच सुरक्षा संबंध बेहद मजबूत हुए हैं। चीन एशिया में भारत को कंट्रोल करने के लिए पाकिस्तान का सहारा ले रहा है और उसे सैन्य तरीके से मजबूत करने में मदद कर रहा है।

यह पढ़े: मामूली भाव के इस स्टॉक के परफॉर्मेंस ने चौंकाया, लगातार 13 दिन से तगड़ी खरीदारी