द्विपक्षीय वार्ता में चीन ने उठाया 59 ऐप्स के बैन का मुद्दा, भारत ने दिया दो टूक जवाब

सीमा पर तनाव के कम होने के बाद अब चीन ने नई दिल्ली के साथ 59 चीनी ऐप्स के बैन किए जाने का मुद्दा उठाया है। उसने यह मुद्दा भारत के साथ हाल में हुई द्विपक्षीय वार्ता के दौरान उठाया। गौरतलब है कि भारत ने पिछले दिनों टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप्स पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया था।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राजनयिक स्तर की एक बैठक के दौरान चीनी अधिकारियों ने भारत में अपनी मोबाइल ऐप्स पर बैन के विषय को प्रमुखता से रखा। जिसके बाद भारत की तरफ से यह स्पष्ट किया गया कि यह कार्यवाही सुरक्षा मुद्दों को देखते हुए की गई है और वह नहीं चाहता कि उसके देश के नागरिकों का निजी डाटा किसी भी छेड़छाड़ का हिस्सा बने। बता दे भारत ने चीनी ऐप पर प्रतिबंध फैसला सुरक्षा कारणों को देखते हुए लिया था।

बता दे भारत सरकार ने चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत लगाया है। भारत सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि ये सभी एप नागरिकों की निजी सुरक्षा का हनन करते है। वही भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र ने इन एप्स पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश की थी। दूसरी तरफ चीनी विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों के कानूनी अधिकारों की रक्षा करना भारत का कर्तव्य है।

यह भी पढ़े: सचिन पायलट के खिलाफ एक्शन लेंगे सीएम गहलोत, राहुल गाँधी और प्रियंका मनाने में जुटे
यह भी पढ़े: अमेरिका से मानवरहित हवाई वाहन ‘रेवन’ हथियार खरीदेगी भारतीय सेना, बढ़ेगी ताकत