भारत और अमेरिका के चक्रव्यूह में फंसा चीन, पहाड़ी और समुद्र इलाके में बढ़ गई टेंशन

चीन का आक्रामक रवैया अब उस को खुद को भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। लद्दाख के पहाड़ों पर उसके नापाक मंसूबों को नाकाम करने के लिए भारत ने अपनी सेना तैनात कर रखी है। वही दूसरी तरफ अमेरिका ने प्रशांत महासागर में अपनी नौसेना के तीन जहाजों को तैनात कर दिया है। ऐसी स्तिथि में दोतरफा घिरे चीन की टेंशन बढ़ गई है। यही नहीं अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ साफ कर चुके है कि एशिया में अमेरिकी सेना की मौजूदगी बढ़ाई जा रही है।

पोम्पिओ ने कहा है कि अमेरिका द्वारा अपने बलों की वैश्विक तैनाती करने की पीछे की बड़ी वजह भारत, मलेशिया, इंडोनेशिया और फिलीपीन जैसे देशों के लिए चीन से बढ़ रहा खतरा है।

बता दे अमेरिका द्वारा तैनात तीन जहाजों में एक वाहक यूएस प्रशांत तट से दूर, दूसरा फिलीपींस के पास और तीसरा यूएसएस थियोडोरे रूजवेल्ट वियतनाम की तरफ बढ़ रहा है। जानकारों का कहना है कि युद्ध की स्तिथि में इन जहाज़ों को मलक्का जलडमरूमध्य और बंगाल की खाड़ी में तैनात करने में आसानी होगी। साथ ही इनसे पूर्वी हिंद महासागर में विमानवाहक पोतों को भेजकर अमेरिका, भारत के खिलाफ चीन और पाकिस्तान को दो मोर्चे खोलने से रोकेगा।

यह भी पढ़े: लॉन्च हुआ भारत का पहला ‘सोशल डिस्टेंसिंग’ स्कूटर, जानें क्या है कीमत और बैटरी क्षमता
यह भी पढ़े: बाबर आजम ने बताया कौन है पाक क्रिकेटरों की सबसे फेवरेट भाभी, सानिया मिर्जा का नहीं लिया नाम