Breaking News
Home / दुनिया / भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को सही करना चाहता है चीन

भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को सही करना चाहता है चीन

चीन ने यह कहा है कि वह भारत के साथ द्विपक्षीय संबंध के ‘सही मार्ग’ पर बने रहने , सहयोग के नए क्षेत्रों की संभावनाएं तलाशने तथा संबंधों में ठोस एवं सतत विकास चाहता है।

loading...

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने मीडिया ब्रीफिंग के दौरान यह महत्वपूर्ण टिप्पणी की। आपको बता दे की उनसे दोनों देशों के बीच उच्च स्तरीय भेंटवार्ता की शृंखलाओं के बारे में सवाल किया गया था।

पिछले साल के डोकलाम गतिरोध के पश्चात भारत और चीन ने संबंधों को पुन : पटरी पर लाने के लिए विभिन्न स्तरों पर संवाद बहुत तेज कर दिया है। हुआ ने यह कहा कि भारत के साथ चीन के रिश्ते में इस साल नई तरक्की और संपूर्ण सहयोग नजर आया।

उन्होंने यह कहा कि दोनों नेताओं (चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) के मार्गदर्शन में इस साल चीन और भारत संबंध विल्कुल सही गति से बढ़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि चीन भारत के साथ संबंधों के विकास को बहुत बड़ा महत्व देता है और हम नेताओं के बीच बनी सहमति को लागू करने, द्विपक्षीय संबंध के सही मार्ग पर बने रहने, अधिक सकारात्मक ऊर्जा एकत्र करने, सहयोग के नए क्षेत्रों की संभावनाएं खंगालने तथा द्विपक्षीय रिश्ते में ठोस एवं सतत विकास के लिए साथ पूर्ण्तः मिलकर काम करना चाहेंगे।

हुआ ने बिना कोई ब्योरा देते हुए कहा कि हमने सभी स्तरों पर घनिष्ठ संवाद एवं संपूर्ण सहयोग में नई तरक्की देखी है। तेरह अप्रैल को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल और चीन के विदेश विषयक आयोग के निदेशक तथा सत्तारुढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य यांग जीची के बीच शंघाई में भेंटवार्ता हुई थी।

जर्मनी ने कहा, साइबर हमले के पीछे था रूस का हाथ

Loading...
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *