जासूसी और हवाला चलाने के आरोप में दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में चीनी नागरिक

जासूसी के आरोप में चीनी नागरिक तसाओ लुंग उर्फ चार्ली पेंग (39) को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है। उस पर आरोप है कि वह भारत में सफलतापूर्वक हवाला रैकेट चला रहा था और करीब सात साल से यहां रहकर जासूसी में लिप्त था। आयकर विभाग सहित कई जांच एजेंसियां आरोपी से पूछताछ कर रही है। आरोपी चीनी युवक के माध्यम से चीनी खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली में निर्वासित रह रहे तिब्बतियों को रिश्वत देने का प्रयास किया था।

पेंग से पूछताछ में पता चला है कि चीनी खुफिया एजेंसियों के निशाने पर उत्तरी दिल्ली के मजनू का टीला में रहने वाले लामा और भिक्षु थे। आरोपी ने कबूल किया कि उसने कभी सीधे पैसे नहीं दिए लेकिन रिश्वत के पैसे भेजने के लिए वह अपने कार्यालय के कर्मचारियों की मदद लिया करता था।

पेंग द्वारा मजनू का टीला में जिन लोगों को रिश्वत दी गई है, उनकी पहचान की जा रही है। हालांकि पेंग ने दावा किया कि उसके कार्यालय के कर्मचारियों ने पैकेट में पैसे का भुगतान किया जिसमें आमतौर पर दो से तीन लाख रुपये थे। 2014 के बाद से पेंग को लुओ सांग के तौर पर भी जाना जाता था।

आरोपी पेंग हिमाचल प्रदेश और दिल्ली में दलाई लामा की टीम में घुसपैठ करने का प्रयास कर चुका है। आयकर विभाग की जांच में पता चला है कि आरोपी पेंग और अन्य चीनी नागरिकों ने फर्जी चीनी कंपनियों के नाम पर 40 बैंक खाते खोले और 1000 करोड़ रुपये से अधिक की मनी लॉन्ड्रिंग की है।

बता दे पेंग को पहली बार 2018 में दिल्ली पुलिस के विशेष सेल ने गिरफ्तार किया गया था। उस वक्त पुलिस ने उसके पास से दो फर्जी आधार कार्ड और एक जाली भारतीय पासपोर्ट जब्त किया था। हालांकि एक साल बाद पेंग को जमानत पर रिहा कर दिया गया था, लेकिन अब वह फिर गिरफ्तार हो चुका है।

यह भी पढ़े: क्या अब राजनीति की पिच पर बैटिंग करेंगे MS Dhoni ? इस वरिष्ठ नेता ने दिया ऑफर
यह भी पढ़े: LAC पर चीन को उसी की भाषा में जवाब देने को तैयार भारतीय सेना, नहीं चलेगी चालबाजी