सीएम ने बीजेपी आलाकमान के साथ दिया संबोधन,कहीं कई बड़ी बातें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और बीजेपी संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने संभाग प्रभारी, प्रभारी स्थानीय निकाय प्रकोष्ठ, स्थानीय निकाय प्रकोष्ठ ,प्रदेश संयोजक एवं सह संयोजक सहित कार्यकर्ताओं को संबोधित किया ।मुख्यमंत्री ने यहां कहा-न दैन्यं न पलायनम् ।पूरे आत्म विश्वास के साथ महाविजय का इतिहास रचने ओबीसी को न्याय देकर, समाज के सब वर्गों को न्याय देकर हम आगे बढ़ने का काम करेंगे।महाविजय के संकल्प के साथ शंखनाद प्रारंभ करें हम पूरी तरह से हम तैयार हैं और विजयी होंगे।

कांग्रेस पर साधा निशाना
उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि चलते चुनाव को रुकवाने का पाप कांग्रेस ने किया है। हम लोगों की तैयारी पूरी हो गई थी, हम लोग तो मैदान में जा रहे थे। कांग्रेस पराजय के ड़र से कोर्ट चली गई और इतना बड़ा महापाप किया कि उसी के कारण ओबीसी का आरक्षण रुक गया। अंततः हम लोगों ने प्रयत्न किए कि ओबीसी आरक्षण के साथ चुनाव हों। फिर एक स्टेज आयी थी जिससे चुनाव स्थगित हुए लेकिन हमने ईमानदार प्रयास किया मैं आपको टॉकिंग पॉइंट्स के रूप में ये बात कह रहा हूँ। तीन-तीन मुख्यमंत्री कांग्रेस ने नहीं, भारतीय जनता पार्टी ने दिए। कांग्रेस ने तो ओबीसी के किसी आदमी को कभी मुख्यमंत्री नहीं बनने दिया, लेकिन कांग्रेस ने षड्यंत्र और महापाप किया है। इनके इस पाप का पर्दाफाश भी करना है लेकिन दूसरी बात जो अध्यक्ष जी ने कही है कि हम हर संभव प्रयास करेंगे कि ओबीसी के आरक्षण के साथ चुनाव हों।

हम करेंगे न्याय
पूरे आत्म विश्वास के साथ महाविजय का इतिहास रचने ओबीसी को न्याय देकर, समाज के सब वर्गों को न्याय देकर हम आगे बढ़ने का काम करेंगे।वहीं बी डी शर्मा जो कि पार्टी अध्यक्ष हैं उनके बारे में कहते हुए सीएम ने कहा कि, अध्यक्ष जी पूरी टीम बूथ की जो हमने रचना की है अब हम पूरी ताकत के साथ रचना को सक्रिय कर दें, इतने काम है अपने केंद्र सरकार के राज्य सरकार के उन कामों के आधार पर हम जाएंगे। चुनाव की तैयारी के जितने भी आयाम होते हैं आज यह बैठक अध्यक्ष जी ने की अब बाकी सभी बैठक तुरंत शुरू हो जाएंगी।

मैंने भी विदेश यात्रा रद्द कर दी है
सीएम ने कहा कि मैंने विदेश यात्रा रद्द कर दी है अब केवल एक ही चीज है वो है ओबीसी को न्याय दिलाना है, चुनाव की तैयारी करके जीतना है।आप सभी साथियों तैयार हो जाओ ,सोचने का समय गया, चलो इतिहास रचते हैं।

ओबीसी आरक्षण पर की बात
हमने ओबीसी वर्ग के लिए ईमानदार प्रयास किए हैं। हमने ओबीसी आयोग बनाया है जो कि गाँव-गाँव घूमा और पूरी रिपोर्ट तैयार की।ओबीसी कमीशन ने रिपोर्ट सबमिट की, हमने रिपोर्ट मांगी और वो रिपोर्ट सर्वोच्च न्यायालय में सबमिट की, हमारा मामला महाराष्ट्र से बिलकुल अलग है।

यह भी पढ़ें:

उप्र सरकार ने डीजीपी मुकुल गोयल को पद से हटाया