कंपनियों के तिमाही परिणाम मजबूत रहने की उम्मीद में शेयर बाजार में तेजी

वैश्विक बाजार के मिलेजुले रुझान के बीच स्थानीय स्तर पर कंपनियों के चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के परिणाम मजबूत रहने की उम्मीद में रिलायंस, मारुति, टीसीएस, एसबीआई और एनटीपीसी जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई लिवाली की बदौलत शेयर बाजार में आज लगातार दूसरे दिन भी तेजी रही।

सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र (आईटी) की दिग्गज कंपनियों इंफोसिस, विप्रो, टीसीएस और एचसीएल टेक के चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के कल जारी हाने वाले परिणाम के मजबूत रहने की उम्मीद से निवेशकों की निवेश धारणा मजबूत हुई। इससे बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 221.26 अंक चढ़कर 60,616.89 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 52.45 अंक की बढ़कर 18,055.75 अंक पर रहा। बड़ी कंपनियों की तरह छोटी और मझौली कंपनियों के शेयर भी मजबूत रहे। बीएसई का मिडकैप 0.01 प्रतिशत की बढ़त लेकर 25,651.53 अंक और स्मॉलकैप 0.15 फीसदी ऊपर 30,434.02 अंक पर रहा।

इस दौरान बीएसई में कुल 3513 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1933 हरे जबकि 1513 लाल निशान पर रहे वहीं 67 के भाव स्थिर रहे। एनएसई में 25 कंपनियों में तेजी जबकि 24 में गिरावट रही वहीं एक में कोई बदलाव नहीं हुआ।

लिवाली के बल पर बीएसई के 13 समूह के शेयरों में तेजी रही। इस दौरान ऊर्जा 0.51, वित्त 0.29, इंडस्ट्रियल्स 0.54, आईटी 0.88, यूटिलिटीज 1.73, टेक 0.63, रियल्टी 0.70 और पावर समूह 1.80 प्रतिशत चढ़ा। वैश्विक बाजार में मिलाजुला रुख रहा। ब्रिटेन का एफटीएसई 0.55 और जर्मनी का डैक्स 1.13 प्रतिशत चढ़ गया जबकि जापान का निक्केई 0.90, हांगकांग का हैंगसैंग 0.03 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.73 प्रतिशत गिर गया।