Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / पाकिस्तान की मदद के लिए तैयार हुए डोनाल्ड ट्रम्प लेकिन राखी ये शर्त

पाकिस्तान की मदद के लिए तैयार हुए डोनाल्ड ट्रम्प लेकिन राखी ये शर्त

पाकिस्तान की खराब हालत

पाकिस्तान की लगातार की जा रही कोशिशों के बाद भी पाकिस्तान को यह नहीं समझ आ रहा है कि भारत के विरोध का समर्थन चीन के अलावा और कोई देश नहीं कर रहा है आखिर एसी कौन सी तरकीब निकाली जाये जिस से पाकिस्तान इस बात को समझ सकें। अमेरिका के दौरे पर जाने से पहले इमरान खान ने कहा था कि वह कश्मीर के हालात की खबर सभी देशों को बताएँगे पर अब उनकी किसने सुनी और किसने नहीं यह तो उनको भी नहीं समझ आ रही।

सभी देशों के नेताओं ने भाप लिया है कि पाकिस्तान के पास कश्मीर छोड़ कर अन्य कोई भी अजेंडा नहीं है। अपने विकास और दुनिया के कल्याण के लिए पाकिस्तान के पास ऐसी कोई भी सोच नहीं है।

Loading...

ऐसा हुआ था आगमन

अब उनकी दशा देखिये कि जब वे न्यूयॉर्क पहुंचे तो उनके स्वागत के लिए कोई भी अन्य नेता मौजूद नहीं थे। अब मोदी के आगमन पर एयरपोर्ट पर क्या हुआ था इस से तो पूरी दुनिया वाकिफ है। इमरान खान और डोनाल्ड ट्रम्प कि मुलाक़ात की हालत तो एसी थी कि खुद पाकिस्तान भी सोच रहा होगा कि काश वो मुलाक़ात ही ना हुई होती। अब पाकिस्तानी मीडिया इस बात पर मुद्दा उठा रही है कि उनके पास कोई रास्ता बचा भी है या नहीं ?

पाकिस्तान की कोशिश नाकाम

इमरान ने जब भारत कि शिकायत ट्रम्प  से करनी चाहिए तो ट्रम्प ने स्पष्ट कह दिया कि ‘मैं पाकिस्तान की मदद कर सकता हूं, लेकिन तभी जब नरेंद्र मोदी भी तैयार हों।’ ट्रम्प ने तो यह तक कह दिया कि पहले के अमेरिकी राष्ट्रपतियों को तो पाकिस्तान पर भरोसा भी नहीं था, उन्होने जो भी कदम उठाए थे सब सही थे, पाकिस्तान ने तो अमेरिका के साथ हमेशा धोखा ही किया है।

जब एक पत्रकार ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के समर्थन करते हुए सवाल पूछा तो ट्रम्प ने तो यह तक कह दिया कि क्या यह पाक प्रतिनिधिमंडल का कोई सदस्य है। ट्रम्प कभी भी पाकिस्तान के लिए उदार नहीं थे परंतु तालिबान से बातचीत कर अफगानिस्तान से भाग निकलने की जल्दी में उन्होने पाकिस्तान को महत्व देना शुरू कर दिया। अब आगे कि स्थिति क्या होगी यह कहना अभी काफी कठिन है परंतु उनके बातों से यह तो समझा जा सकता है कि झुकाव भारत के तरफ ही होगा।

पाकिस्तान ने दिया धोखा

ट्रम्प ने अपने भाषण में पहले भी कहा था कि पाकिस्तान ने धोखा दे कर पहले भी अमेरिकी राष्ट्रपतियों से 33 अरब डॉलर ठग लिया था, साथ ही उन्होने यह भी कहा कि जिन राष्ट्रपतियों ने उनकी सहायता रोकी वो पाकिस्तान की असलियत समझ चुके थे।

पाकिस्तान ने हमेशा बिन लादेन जैसे अनेकों आतंकियों को पनाह दी है। देश दुनिया से अलग हो चुका पाकिस्तान हमेशा से इस बात को नकारता रहा परंतु यह बात सभी जानते है कि उनके सेनाओं ने हमेशा आतंकियों का समर्थन किया है और उन्ही की मदद से आतंकवाद आज इतना फैला हुआ है।

यह भी पढ़ें: PAK की मदद से मिली आतंकी हाफ़िज़ सईद को UN से मिली बड़ी राहत

यह भी पढ़ें: डाकू मलखान सिंह ने अक्षय कुमार को तथ्यों से छेड़छाड़ ना करने की दी चेतावनी

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *