Breaking News
Home / देश / छत्तीसगढ़ में एक साथ चुनाव लड़ेगी बसपा और कांग्रेस, सीटों को लेकर बन रही सहमति

छत्तीसगढ़ में एक साथ चुनाव लड़ेगी बसपा और कांग्रेस, सीटों को लेकर बन रही सहमति

रायपुर: साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावो को लेकर सभी पार्टियाँ अपनी तैयारी बना रही हैं| एमपी, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के साथ मिजोरम में भी चुनाव हो सकते है| वर्तमान में बीजेपी शासित राज्य छत्तीसगढ़ में अपनी सत्ता जमाने के लिए विपक्षी पार्टियाँ गठबंधन में लगी है और मिली खबर के अनुसार कांग्रेस और बसपा इस राज्य में एक साथ चुनाव लड़ रही है| गठबंधन की यह सहमति उपरी स्तर में बनी है और अभी बस इसका औपचारिक एलान होना बाकी है|

 

बसपा की ये मांग- बसपा ने कांग्रेस से सारंगढ़, बेलतरा, तखतपुर, नवागढ़, गुंडरदेही, आरंग, पामगढ़, अकलतरा, चंद्रपुर, बिलाईगढ़, कसडोल, जांजगीर, जैजेपुर सीट मांगी है लेकिन कांग्रेस केवल उन्हें उतनी ही सीटें देगी जितनी सीटें बसपा के हिस्से में आती है| आपको बता दे की राज्य में जनजातीय प्रभाव अधिक होने के कारण वहां बसपा की पकड मजबूत है|

 

इतनी सीटों पर बसपा का कब्ज़ा– कांग्रेस को आशंका है कि इन आदिवासी बहुल सीटों पर अजीत जोगी की पार्टी उनके वोट प्रतिशत को कम करेगी| ऐसे में जोगी का काट बसपा ही है, इसलिए प्रदेश संगठन पुरजोर कोशिश के साथ बसपा से गठबंधन करना चाह रहा था| प्रदेश की 12.8 प्रतिशत एससी वोटों पर बसपा का कब्जा है, ऐसे में ये सब वोट कांग्रेस के खाते में जाएंगे| कांग्रेस मानकर चल रही है कि पिछले 2013 के चुनाव में भाजपा-कांग्रेस के बीच हार-जीत का अंतर .07 प्रतिशत था| बसपा के साथ आने से कांग्रेस जीत पक्की मानकर चल रही है|

 

हालाँकि अब देखना ये है की इन दोनों पार्टियों के गठबंधन को तोड़ने के लिए बीजेपी कौन सा ने तरीका अपनाती है|

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *