बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने आज से शुरू किया ‘बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन’

बिहार मे होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सभी दल पूरे ज़ोर-शोर से लगे हुए है। सभी पार्टियाँ वोटरों को अपने पाले मे करने के लिए पूरे जोश के साथ लगी हुई है। पिछले तीन दशकों से प्रदेश की सत्ता से दूर कांग्रेस इस बार पूरे जोश में है और प्रदेश की सत्ता मे वापसी की पुरजोर कोशिश कर रही है। बिहार से सटे झारखंड में 22 में से 17 सीटने जीतने के बाद कांग्रेस इस बार बिहार की राजनीति मे भी पूरे जोश मे है। राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि अगर बिहार में कांग्रेस को पिछले चुनावों की तुलना में सफलता मिलती है तो दिल्ली चुनाव की हार को भूल फिर से पार्टी खड़ी हो सकती है।

इसी दिशा में राहुल गांधी 1 सितम्बर यानि आज बिहार के चुनावी अभियान का बिगुल फूंकने जा रहे हैं।  कांग्रेस ने इसे ‘बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलन’ का नाम दिया है। पार्टी ने इसके तहत महज 21 दिनों में 100 रैलियां करने का प्लान बनाया है। इस संबंध में बिहार विधानसभा चुनाव के कांग्रेस प्रभारी और पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अजय कपूर ने बताया कि “1 से 21 सितंबर तक कांग्रेस पूरे राज्य में 100 आभासी रैलियां करेगी। बिहार की जनता मौजूदा सरकार को बदलना चाहती है और विकास की सरकार बनाने के लिए बिहार की जनता मन बना चुकी है”।

राष्ट्रीय सचिव अजय कपूर आगे कहा कि “इसको सफल बनाने के लिए कांग्रेस के जिला अध्यक्षों को निर्देश दिए जा चुके हैं। हर सम्मेलन में कम से कम आठ से दस हजार लोगों शामिल करना सुनिश्चित करने का लक्ष्य रखा गया है”। उनहोंने ये भी बताया कि “महासम्मेलन में प्रदेश से लेकर राष्ट्रीय स्तर के नेतागण अपने-अपने विचार रखेंगे। कांग्रेस की इस वर्चुअल रैली में स्थानीय स्तर के नेताओं को भी अपनी बात रखने का मौका मिलेगा”। इससे मतलब साफ है कि कांग्रेस लोकल स्तर के नेताओं के जरिए जनता में प्रभाव बनाने पर सूक्ष्मता से काम कर रही है.

1990 के बाद से कांग्रेस का बिहार में जनाधार लगातार कम हुआ है। माना जा रहा है कि कांग्रेस इन रैलियों के जरिए बिहार की 84 विधानसभा क्षेत्रों में वर्चुअल महासम्मेलन रैली करके अपने राजनीतिक समीकरण को साधने की कवायद करेगी। इस बार भी बिहार मे कांग्रेस महागठबंधन के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है। इस समय कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के चेहरे पर ही हर प्रदेश में चुनाव लड़ रही है। राहुल गांधी बिहार में 1 सितम्बर को वर्चुअल रैली के माध्यम से बिहार में चुनावी प्रचार की शुरुआत करने वाले हैं।