कच्चे दूध का सेवन सेहत के लिए हो सकता है हानिकारक

दूध तो बहुत लोग पीते है लेकिन कई लोग ऐसे भी है जो कच्चा दूध पीना बहुत बेहतर समझते है। ऐसा माना जाता है कि पाश्‍च्‍यूरीकृत दूध की तुलना में कच्चे दूध में बहुत अधिक प्रोटीन और जीवाणु होते है। लेकिन इसके ऊपर की गयी एक ताज़ा शोध में बहुत ही चौकाने वाले फायदे सामने आये है। जिन्हे जानकर शायद आप कच्चा दूध पीना तत्काल छोड़ दे। एक ताज़ा शोध के अनुसार, कच्चे दूध का सेवन हमारे शरीर के लिए बहुत नुकसानदायक होता है। किन्तु एक नई शोध में सामने आया है कि पाश्‍च्‍यूरीकृत दूध की तुलना में कच्चा दूध पीने से खाद्य जनित बीमारियों के होने का खतरा तकरीबन 100 गुना तक बढ़ सकता है।

शोध के अनुसार, आमतौर पर दूध में पाया जाने वाला माइक्रोबियल में एशचेरीचिया कोली ओ157:एच7 के साथ बहुत ही संक्रमणकारी सालमोनेला, कैंपीलोबेक्टर और लिस्टेरिया बहुतायत मात्रा में पाया जाता है। ये जीवाणु मनुष्यों में खाद्यजनित बीमारियों का गंभीर कारण बनते हैं। कच्चे दूध का सेवन करने से टीबी के बैक्टीरिया शरीर में आसानी से प्रवेश कर सकते है।

यदि उचित समय में इसका इलाज न किया जाए तो टीबी हो सकती है। यदि कोई व्यक्ति कच्चे दूध का सेवन करता है, तो टीबी के बैक्टीरिया दूध के साथ व्यक्ति के शरीर में बहुत ही आसानी से प्रवेश कर आंतों की टीबी को जन्म देते हैं। कच्चा दूध शरीर में अम्ल को पूरी तरह बढ़ाते है। यह शरीर के लिए बहुत नुकसानदायक है।