Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / गोरखपुर में कोरोना वायरस चेकअप के नाम पर ठगी
Corona virus

गोरखपुर में कोरोना वायरस चेकअप के नाम पर ठगी

कोरोनावायरस की दहशत के कारण गोरखपुर में बाहरी लोग चेकअप कराने पहुंच रहे हैं। हालांकि गोरखपुर में इसके चेकअप की कोई व्यवस्था नहीं है लेकिन फिर भी लोग इस बीमारी की जांच कराने के लिए यहां पहुंच रहे हैं और ठगी के शिकार हो रहे हैं।

कोरोनावायरस के डर से इससे जुड़े कारोबार में काफी तेजी आ गई है। जहां मास्क और दूसरे प्रिकॉशन से जुड़े सामान बाजार से गायब होने लगे हैं वहीं अब पैथोलॉजी में इसकी जांच भी शुरू हो गई है यहां तक कि सर्दी जुखाम वाले मरीज भी जाकर अपना होल बॉडी चेकअप करा रहे है।

Loading...

सीएमओ डॉ0 श्रीकांत तिवारी ने बताया कि गोरखपुर में कोरोना जांच के लिए फिलहाल कोई सुविधा नहीं है अगर कोई इसके नाम पर पैसा ले रहा है तो वह सिर्फ अपनी जेब भरने में लगा हुआ है। क्योंकि सिर्फ गवर्नमेंट सेटअप में ही अभी जांच हो पा रही है वह भी नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी के साथ ही इससे जुड़े वायरस रिसर्च एंड डायग्नोस्टिक लैब्स नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल में इसके अलावा हाल में ही लखनऊ केजीएमयू में जांच शुरू हुई है।

मालूम हो कि इस बीमारी का होल बॉडी चेकअप से कोई लेना-देना नहीं है बल्कि मरीज के लार से ही इसकी पुष्टि हो सकती है। गोरखपुर में इसकी जांच की कोई व्यवस्था नहीं है, जिन मरीजों में सिम्टम्स पाए गए उनके सैंपल केजीएमयू भेजे जा रहे हैं। कोई यहां जांच कर रहा है तो यह गलत है।

ये भी पता चला है कि कोरोना टेस्ट के नाम पर कुछ पैथोलॉजी वाले स्वाइन फ्लू की जांच कर रहे हैं और लोगों को चूना लगा रहे हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *