भोपाल में 12 अप्रैल से लेकर 19 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू

भोपाल में जिस तरह से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उसे देखते हुए कोरोना कर्फ्यू लागू करने का निर्णय लिया गया है। कल 12 अप्रैल से लेकर 19 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लगाया जाएगा।

मध्य प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि रोजमर्रा के चीजों की गतिविधियां चालू रहेंगी। इसमें अन्य राज्यों और जिलों में माल तथा सेवाओं का आवागमन, अस्पताल, नर्सिंग होम, मेडिकल, स्वास्थ्य और चिकित्सा सेवाएं, केमिस्ट, किराना दुकान, होम डिलीवरी, पेट्रोल पंप, ATM, बैंक, दूध और सब्जी की दुकानों को छूट रहेगी।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीदने के ऑर्डर दे दिए हैं। जनता से अपील है कि शहर को लॉकडाउन करने के बजाय मास्क से चेहरा लॉक हो जाए और पैर भी लॉक हो जाए। घर से अनावश्यक न निकलें। कोविड की स्थिति को देखकर ही बोर्ड परीक्षा के तिथियों की घोषणा होगी।

हर जिले में एक मंत्री को ड्यूटी दिया गया है। जिले ज्यादा हैं इसलिए किसी मंत्री को 1 किसी को 2 जिलों की जिम्मेदारी दी है।

अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाए जा रहे हैं। हमारे पास पर्याप्त ऑक्सीजन है। विश्वास है कि रेमडेसिवीर इंजेक्शन का संकट 2-3 दिन में समाप्त हो जाएगा।

यह भी पढ़ें:

आजादी के वक्त देश की जीडीपी में बंगाल का 30% योगदान था जो आज घटकर 3% पर आ गया है