जीरा ना सिर्फ कोलेस्ट्रॉल और वजन कंट्रोल करता है, बल्कि और भी कई लाभ प्रदान करता है, जानिए

जीरा एक ऐसा मसाला है जिसका इस्तेमाल हर घर में किया जाता है। लेकिन क्या आपको पता है इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं? जीरा में आयरन, एंटीऑक्सीडेंट, फाइबर, कैल्शियम, विटामिन-सी जैसे और भी बहुत से पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर को हेल्दी और फिट रखने में मदद करते हैं। कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के अलावा जीरा को डाइट में शामिल करने से वजन भी कम होता है। इसके अलावा जीरा को डाइट में शामिल करने से और भी कई स्वास्थ्य समस्याएं दूर हो सकती हैं। आइए जानते हैं किन स्वास्थ्य समस्याओं के लिए जीरा फायदेमंद होता है-

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करता है: अध्ययन के अनुसार, जीरा ब्लड कोलेस्ट्रॉल में सुधार करता है। एक अध्ययन में, आठ सप्ताह तक रोजाना दो बार लिया गया 75 मिलीग्राम जीरा अस्वास्थ्यकर ब्लड ट्राइग्लिसराइड्स को कम करता है। एक अन्य अध्ययन में, डेढ़ महीने में जीरा निकालने वाले रोगियों में ऑक्सीडाइज़्ड “खराब” एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर में लगभग 10% की कमी आई थी।

वजन कम करता है: जीरा में फाइबर और विटामिन-सी होता है जो वजन कम करने में मदद करता है, साथ ही फाइबर पेट को लंबे समय तक भरा रखता है जिसके कारण ओवरइटिंग करने से इंसान बचता है। इसके अलावा जीरा शरीर में फैट को एकत्रित होने से रोकता है और एक्सट्रा फैट भी बर्न करता है।

डायबिटीज के लिए: जीरे में ऐसे घटक भी होते हैं जो डायबिटीज के दीर्घकालिक प्रभाव को कम करने में मदद करते हैं। एक नैदानिक अध्ययन से पता चला है कि जीरे से बना सप्लीमेंट्स डायबिटीज के लक्षणों को कम करने में मदद करता है, साथ ही ब्लड में ग्लूकोज को भी बढ़ने से रोकता है जिससे डायबिटीज कंट्रोल रहता है।

पाचन को बेहतर करता है: जीरा पेट के लिए बेहतर मसाला होता है और पैनक्रियाटिक एंजाइमों को बढ़ावा देता है जो पाचन प्रक्रिया में सहायता करता है। जीरे के बीज में थाइमोल और आवश्यक तेल होते हैं जो लार ग्रंथि को उत्तेजित करते हैं, जिससे पाचन में आसानी होती है। कमजोर पाचन तंत्र वाले लोगों को बेहतर पाचन के लिए और पेट फूलने को कम करने के लिए सुबह खाली पेट जीरा पानी पीने की सलाह दी जाती है।

यह भी पढे –

जरूर पढ़ें यह खबर, अगर आपको भी है मोमोस खाने के शौक