Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / दही है लाभकारी और पोषक आहार

दही है लाभकारी और पोषक आहार

दही ऐसा आहार है जो घर, शादी ब्याह में पकने वाले व्यंजन में काम आता है। दही की जरूरत घर में हमेशा पड़ती है। आमतौर पर घर मे बनने वाली सब्जी में भी दही का काफी योगदान रहता है। दही के बिना सब्जी अधूरी मानी जाती है।

आईए जानते हैं दही के फायदे और उपयोग के बारे में

दही एक दुग्ध-उत्पाद है जिसका निर्माण दूध के जीवाणु किण्वन (fermentation, उबाल) द्वारा होता है। लैक्टोज का किण्वन लैक्टिक अम्ल (Lactic acid, दुग्धामल) बनाता है, जो दूध प्रोटीन से प्रतिक्रिया कर इसे दही मे बदल देता है साथ ही इसे इसकी खास बनावट और विशेष खट्टा स्वाद भी प्रदान करता है। सोया दही, दही का एक गैर दुग्ध-उत्पाद विकल्प है जिसे सोया दूध से बनाया जाता है।

Loading...

खाने में दही का प्रयोग पिछले लगभग 4500 साल से किया जा रहा है। आज इसका सेवन दुनिया भर में किया जाता है। यह एक स्वास्थ्यप्रद पोषक आहार है।  यह प्रोटीन, कैल्शियम, राइबोफ्लेविन, विटामिन बी6 और विटामिन बीवी2 जैसे पोषक तत्वों से समृद्ध होता है।

दही के लाभ

इसमें कुछ ऐसे रासायनिक पदार्थ होते हैं, जिसके कारण यह दूध की अपेक्षा जल्दी पच जाता है। जिन लोगों को पेट की परेशानियां जैसे- अपच, कब्ज, गैस जैसी बीमारियां घेरे रहती हैं, उनके लिए दही या उससे बनी लस्सी, मट्ठा, छाछ का उपयोग करने से आंतों की गरमी दूर हो जाती है। डाइजेशन अच्छी तरह से होने लगता है और भूख खुलकर लगती है।

सौंदर्य में भी गुणकारी

दही एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो खाने में स्वास्थ्यवर्धक तो है ही साथ ही ये सौंदर्य निखारने के लिए भी अच्छा स्रोत माना जाता है। गर्मियों में अक्सर तेज धूप शरीर पर पडऩे से त्वचा झुलस या टैन हो जाती है, ऐसे में दही टैनिग कम करने के लिए बेहतर विकल्प माना जाता है। इतना ही नही दही में बेसन मिलाकर लगाने से भी चेहरे पर चमक आती है।

धार्मिक दृष्टि से भी महत्वपूर्ण

दही धार्मिक लिहाज से भी बहुत शुभ माना जाता है। धर्म में भी सफेद पदार्थ (दूध, दही) को बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है। घर से निकले से पहले हम सफेद दही खाते हैं ताकि रास्ते में पडऩे वाली मुसीबत टल सके। इसके अलावा हम खाने में भी अक्सर दही को शामिल करते है, खाने की शुरूआत भी दही से करते हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *