उद्योगों के विकास के लिये डेलॉयट इंडिया ने दिये अहम सुझाव

उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने की दिशा में प्रयासरत योगी सरकार के अधिकारियों ने बुधवार को कार्यदायी संस्था डेलॉइट इंडिया के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। सलाहकार के रूप में डेलाइट इंडिया के प्रतिनिधियों ने प्रदेश को वन ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाने और नये उद्योगों को स्थापित करने के साथ साथ औद्योगिक विकास पर अपने सुझाव दिये।

बैठक में अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास अरविंद कुमार, वन ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी के नोडल अधिकारी आलोक कुमार, इन्वेस्ट इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अभिषेक प्रकाश भी मौजूद थे। बैठक में प्रदेश में पूंजी निवेश को बढ़ावा देने के लिए नीतियों पर गहन रूप से चर्चा की गई और अन्य कंसल्टेंसी फर्म्स के बीच बेहतर समन्वय बनाए रखने पर जोर दिया गया।

अरविंद कुमार ने योगी सरकार की ओर से औद्योगिक विकास के क्षेत्र में उठाए जा रहे कदमों के बारे में बताया। साथ ही ग्लोबल इंवेस्टर समिट-2023 को लेकर हो रही तैयारियाें की जानकारी दी। वन ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी के नोडल अधिकारी आलोक कुमार ने बताया कि बैठक में सरकार की तरफ से निवेशकों को आकर्षित करने के लिए जिन नीतियों को लाया गया है उनकी बेहतरी और अन्य नई नीतियों को लाने पर चर्चा की गई है। इसके साथ ही डेलॉइट इंडिया संस्था की तरफ से स्टेकहोल्डर्स और डिपार्टमेंट को लेकर क्या कुछ रोडमैप तैयार किया गया है।

यह भी पढ़े: कर्नाटक विधानसभा चुनाव तक नेतृत्व पर कोई बात नहीं: वेणुगोपाल