डायबिटीज के मरीजों को हो रही है मीठे की तलब तो चीनी के बजाय करें इन हेल्दी फूड्स का सेवन

sweet Foods For Diabetic Patient: डायबिटीज के मरीजों को अपनी फूड हैबिट्स का खास ख्याल रखने की सलाह दी जाती है, वरना ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) नियंत्रण से बाहर हो जाएगा. इस बात से हम सभी वाकिफ हैं कि मधुमेह होने पर डॉक्टर सबसे पहले मीठे के सेवन को छोड़ने की सलाह देते हैं क्योंकि ये उन रोगियों के लिए जहर से कम नहीं है. इसके बावजूद किसी पेशेंट को मीठे की तलब हो रही हो तो उनके पास क्या हेल्दी ऑप्शन है. ग्रेटर नोएडा के GIMS अस्पताल में कार्यरत मशहूर डाइटीशियन डॉ. आयुषी यादव (Dr. Ayushi Yadav) ने बताया कि मधुमेह के रोग किन मीठी चीजो को खा सकते हैं.

डायबिटीज के मरीजों के लिए चीनी का बेटर ऑप्शन

खजूर
खजूर (Dates) एक मीठा और बेहद लजीज फल है, ये सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है, कई बार इसे दूध के साथ मिलाकर पीने की सलाह दी जाती है, लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये उठता है कि क्या डायबिटीज (Diabetes) के मरीज इसे खा सकते हैं या नहीं. खजूर में कैलोरी और शुगर की मात्रा काफी कम पाई जाती है. ये फल आयरन, कॉपर, पोटेशियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, फॉस्फोरस, कैल्शियम और सेलेनियम का रिच सोर्स है. अगर आपका ग्लूकोज लेवल कंट्रोल में है तो कुछ खजूर खा लेने से ये स्तर नहीं बढ़ेगा.

शहद
मधुमेह के जिन मरीजों (Diabetic Patient) को मीठा खाने की तलब हो रही है, उन्हें शहद (Honey) को हेल्दी फूड के तौर पर चुनना चाहिए क्योंकि सेहत के लिए ये फायदेमंद माना जाता है और इसमें मौजूद घटकों की वजह से नेचुरली स्वीट होता है. हालांकि कुछ भी खाने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए क्योंकि हर मरीज का कंडीशन अलग-अलग होता है. चीनी की ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू (Glycemic Index Value) 65 होती है, वहीं शहद के मामले में ये स्तर 55 के आसपास है. इससे साबित होता है कि शक्कर के मुकाबले में शहर खाना ज्यादा सेफ है. शहद को विटामिन बी-6, विटामिन सी, नायसिन, एमिनो एसिड कार्बोहाइड्रेट और राइबोफ्लेविन का रिच सोर्स माना जाता है जिससे शरीर को हर तरह से फायदा पहुंचता है.