Diabetes के मरीज भूलकर भी ना करें आम का सेवन, जानिये और किन फूड्स को करें अवॉयड

डायबिटीज में ब्लड शुगर का लेवल बहुत बढ़ जाता है जिससे शरीर की इंसुलिन उत्पादन क्षमता प्रभावित होने लगती है। छोटे बच्चों से लेकर बड़ों तक में यह समस्या देखी जा रही है। डायबिटीज के मरीजों में सबसे ज्यादा मौत हार्ट अटैक या स्ट्रोक से होती है। आयुर्वेद में खाने की जितनी कड़वी चीजें हैं, वे डायबिटीज के मरीजों में शुगर और फैट को नियंत्रण में रखने में सहायक होते हैं। इसके अलावा जीवनशैली में थोड़ा बदलाव कर हम डायबिटीज पर काबू पा सकते हैं। डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए सबसे जरूरी तो ये है कि आप अपने खानपान पर विशेष ध्यान दें और परहेज करें। डायबिटीज के मरीजों को अपनी डाइट में आम नहीं शामिल करना चाहिए। आइए जानते हैं और किन फूड्स से करना चाहिए परहेज-

तरबूज: शुगर के मरीजों के लिए तरबूज का ज्यादा सेवन खतरनाक साबित हो सकता है। इसकी वजह से खून में शुगर की मात्रा बढ़ने की गुंजाइश अधिक हो जाती है। साथ ही हाई ब्लड प्रेशर की भी शिकायत हो सकती है। इतवा ही नहीं तरबूज खाने से शरीर में कार्बोहाईड्रेट की मात्रा बढ़ती है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

आम: डायबिटीज के मरीजों के लिए आम का सेवन करना घातक साबित हो सकता है। आम में चीनी की मात्रा बहुत अधिक होती है जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है। इसके अलावा इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी अधिक मात्रा में मौजूद होता है। इस वजह से ये शुगर पेशेंट्स के लिए सही नहीं है।

सॉफ्ट ड्रिंक: सॉफ्ट ड्रिंक का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल तेजी से बढ़ सकता है। आप सोडा और मीठे ड्रिंक्स में पाए जाने वाले स्‍वीटनर और प्रिजरवेटिव आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं और डायबिटीज के कारण होने वाली अन्य समस्याओं को भी बढ़ा सकते हैं।

फ्रूट जूस: फ्रूट जूस का सेवन करने के बजाय आप ताजे फलों का जूस अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। फ्रूट्स में फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है, लेकिन फ्रूट जूस में फाइबर की मात्रा कम हो जाती है। पैक्ड जूस में फ्रुक्टोज अच्छी मात्रा में होता है जो आपके शुगर लेवल को बढ़ा सकता है। साथ ही अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के खतरे को भी बढ़ा सकता है।

यह भी पढ़े-

डायबिटीज को खत्म करने में कारगर है पुदीना का पत्ता, इस्तेमाल का तरीका भी जान लीजिए