गर्भावस्था में जरूर करें तुलसी पत्तों का सेवन, मिलेंगे ये लाभ

औषधि गुणों से युक्त तुलसी अधिकतर घरों में पाई जाती है। जहां कुछ लोग इसकी शिद्दत से पूजा करते हैं तो कुछ लोग इसकी मदद से कई बीमारियों से राहत पाते हैं। आपको शायद पता न हो लेकिन गर्भवती महिलाओं के लिए भी इसका सेवन बेहद लाभकारी माना गया है। तो चलिए जानते हैं तुलसी के पत्तों के सेवन से गर्भावस्था में होने वाले लाभ के बारे में-

प्रैग्नेंसी में महिला को किसी भी तरह का इंफेक्शन होने की संभावना काफी होती है। लेकिन अगर तुलसी की पत्तियों का सेवन किया जाए तो इससे महिला को किसी भी बीमारी से लड़ने की ताकत मिलती है। इसके एंटी-बैक्‍टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल गुण होने के कारण यह प्रैग्नेंसी में होने वाले इंफैक्शन के खतरे को कम करता है।

गर्भस्थ शिशु के बेहतर विकास के लिए भी महिला को तुलसी का सेवन करना चाहिए। इसमें मौजूद मैग्‍नीशियम शिशु की हड्डियों का विकास करने में मदद करता है। साथ ही इसमें मौजूद मैगनीज प्रैग्नेंसी में होने वाले मूड स्विंग को भी कम करता है।

गर्भावस्था में महिला को मूड स्विंग के अतिरिक्त कई तरह की टेंशन से भी होकर गुजरना पड़ता है। यह तनाव बच्चे के विकास पर विपरीत प्रभाव डालता है। ऐसे में तुलसी के पत्तों का सेवन करें क्योंकि इससे आपका दिमाग को शांत रहेगा और तनाव कम होगा।

सफेद चने खाने के ये फायदें जानकार आज ही से खाना शुरू कर देंगे आप