प्रेगनेंसी के समय ना करें इस खाने का सेवन

फास्ट फूड का सेवन सेहत के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। अब शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि गर्भावस्था में फास्ट फूड के सेवन से भविष्य में संतान में अटेंशन डेफिसिट/हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर (एडीएचडी) का खतरा बढ़ जाता है। उच्च वसा और शुगर युक्त खाद्य पदार्थों के इस्तेमाल से यह समस्या उत्पन्न होती है। फास्ट फूड में इसकी अधिकता रहती है।

किंग्स कॉलेज लंदन के शोधकर्ता ने बताया कि प्रसव पूर्व पौष्टिक आहार लेने से संतान में एडीएचडी और बर्ताव (जैसे झूठ बोलना और झगड़ालू होना) से जुड़़ी कठिनाइयों के खतरे को कम किया जा सकता है।

शोध में शामिल बच्चों को दो समूहों में बांटा गया था। एक वर्ग के बच्चों में इस तरह की समस्या थी, जबकि दूसरे समूह के बच्चे स्वस्थ थे। जांच पड़ताल करने पर एडीएचडी पीडि़त बच्चों की मां द्वारा गर्भावस्था के दौरान फास्ट फूड का सेवन करने की बात सामने आई।

 

 

यह भी पढ़ें-

चलिए जानते हैं ज्यादा देर बैठने के होने वाले नुकसानों के बारे मे