न करे कान के जख्म को नजरअंदाज, नहीं तो हो सकती है बहरेपन की बीमारी

कान हमारे शरीर का एक ऐसा अंग है जिससे हमें सुनाई देता है। क्या आपने कभी सोचा है कि अगर आपको सुनना बंद हो जाये तो कैसा लगेगा। आजकल काफी काफी लोग कान से जुडी प्रॉब्लम से दुखी है। उनमे से एक प्रॉब्लम है कान का जख्म।

खाली समय में बैठे हम कान में कुछ न कुछ मारते रहते हैं। जिससे कई बार दर्द होने लगता है और कई बार जख्म भी हो जाता है। इस जख्म को नजरअंदाज कर देने से बहरेपन की बीमारी भी हो सकती है। आज हम आपको बताएंगे कुछ घरेलु नुस्खे जिससे आप कान के जखम से छुटकारा पा सकते हैं।

मूसाकर्णी कान के जख्म के लिए बहुत फायदेमंद है। मूसाकर्णी के रस को कान में कुछ दिन लगातार डालने से आप कान के जखम से छुटकारा पा सकते हैं।

प्याज का रस और मुर्गी के अंडे की अन्दर की सफ़ेद जर्दी को मिलाकर कान में डालने से कान का जख्म ठीक हो जाएगा।

भोजपत्र की छाल का काढ़ा बनाकर कान में डालने से आपको कुछ दिनों में कान के जखम से आराम मिल जाएगा।