रात को सोने से पहले करें ये काम, कभी नहीं होगा अस्थमा अटैक

वर्तमान समय में, ऐसे बहुत से लोग हैं, जो सांस की समस्या से जूझ रहे हैं। अकेले भारत में ही अस्थमा मरीजों की संख्या डेढ़ करोड़ तक है। अस्थमा बीमारी में सांस लेने में दिक्कत, सीने में दर्द, खासी अन्य आदि कई तरह के लक्षण दिखाई देते हैं। वहीं अगर बात अस्थमा अटैक की हो तो यह रात में ज्यादा होता है। इसलिए सोने से पहले कुछ बातों का ख्याल रखना बेहद आवश्यक है-

  1. अस्थमा के मरीजों को अपने आस-पास सफाई का खास ख्याल रखना चाहिए क्योंकि उनकी समस्या धूल-मिट्टी के कारण बढ़ सकती है। इसलिए अपने बैडरूम की सफाई अच्छी तरह और नियमित रूप से करें।
  2. वहीं अगर आपके घर में पालतू जानवर है तो आप उसे अपने साथ न सुलाएं। इसके अलावा अस्थमा पेशेंट को जानवरों से थोड़ी दूर रहना चाहिए। क्योंकि उनके शरीर के बालों में मौजूद धूल मिट्टी आपकी सांस नली को बंद कर सकती है।
  3. सोते समय आपको अपनी पोजिशन पर भी पूरा ध्यान रखना चाहिए। आप हमेशा अपने सिर को ऊंचा रखकर ही सोएं। अगर आपको जुकाम या साइनस इंफैक्शन है तो पीठ के बल लेटने से अटैक की संभवाना बढ़ सकती है। इसलिए यह प्रॉब्लम होने पर हमेशा करवट लेकर सोएं।

यह भी पढ़ें:

नींद की गोली लेने से पहले जान लीजिए इन बातों को!

इन चीजों के सेवन से दूर हो जाती है खून की कमी!

Loading...