क्या आपके भी सिर में रहता है अक्सर दर्द, तो अपनाएं ये आसान उपाय

आजकल की तेज भागती जिंदगी और व्यस्त जीवनशैली में तनाव और सरदर्द एक आम बीमारी हो गई है। सरदर्द के कई कारण होते हैं। सिर में रक्त पहुंचाने वाली नाड़ियों में संकुचन, स्नायु तंत्र की असमान्य गतिविधि, ज्यादा धूम्रपान करना, ज्यादा अल्कोहल लेना, शरीर में पानी की कमी, ज्यादा देर तक बेवजह सोना, दर्द निवारक दवाओं का ज्यादा सेवन करना, सर्दी-जुकाम, बुखार समेत ऐसे कई वजह हैं, जिससे सरदर्द होती है।

यहां यह जानना जरुरी है कि सामान्य सरदर्द और माइग्रेन के सरदर्द में अंतर है। माइग्रेन में सरदर्द काफी परेशानी वाला होता है और यह एक गंभीर बीमारी भी है। सरदर्द या किसी भी तरह के सरदर्द में जल्दी एलोपैथिक दर्द निवारक दवा खाना सेहत के लिए नुकसानदेह होता है, क्योंकि ज्यादा पेन किलर खाने से किडनी और लिवर डैमेज होते हैं।

एलोपैथिक दवाओं से बेहतर है कि हम ऐसे कुछ घरेलू उपचार को आजमाएं, जिससे सरदर्द में न सिर्फ आराम मिलता है बल्कि यह जड़ से खत्म भी होता है, बिना कोई साइड इफेक्ट।

सरदर्द के घरेलू नुस्ख़े

सरसों तेल

सरदर्द में सरसों तेल काफी असरदार होता है। माथे के जिस हिस्से में दर्द हो रहा हो उस तरफ वाले नाक में सरसों के तेल की कुछ बूंदें डाल दीजिए और उसके बाद जोर से सांसों को ऊपर की तरफ खींचिए। इससे सरदर्द से काफी राहत मिलेगी। ध्यान रहे सरदर्द होने पर बिस्तर पर लेटकर दर्द वाले हिस्से को बेड के नीचे लटका कर नाक में तेल लेना चाहिए।

दालचीनी

दालचीनी को पानी के साथ महीन पीसकर माथे पर पतला लेप लगाने से सरदर्द में काफी राहत मिलती है। लेप सूख जाने पर उसे हटा लीजिए। तीन-चार बार लेप लगाने पर सरदर्द होना बंद हो जाता है।

पुष्कर मूल

पुष्कर मूल एक कुदरती जड़ी बूटी है। इसे चंदन की तरह घिसकर लेप बना लें और सिर पर लगाएं। इसके लेप को माथे पर लगाने से सरदर्द में काफी राहत मिलता है।

मुलेठी

मुलेठी सरदर्द में काफी काम करता है। मुलेठी को पीसकर चूर्ण बना लीजिए। इस चूर्ण को नाक के पास ले जाकर सूंघें। इससे सरदर्द छू-मंतर हो जाएगी।

सौंफ-पीपल-मुलेठी

पीपल के पत्ते, सोंठ, मुलैठी और सौंफ सबको पीसकर चूर्ण बना लीजिए। उसके बाद इस चूर्ण में एक चम्मुच पानी मिलाकर गाढा लेप बना बना लीजिए। इस लेप को माथे पर लगाइए। सरदर्द खत्म हो जाएगा।

मसालेदार चाय

मसालेदार चाय सरदर्द के लिए एक रामबाण की तरह काम करता है। इसे घर में भी आसानी से बनाया जा सकता है। यह एक उत्‍तेजक पेय पदार्थ है जो दिमाग को सचेत करता है। चाय में थोड़ी अदरख, लौंग और इलाइची मिला कर उबाल दें। हो गया गरमागरम मसालेदार चाय तैयार। मसालेदार चाय को गरमागरम ही पीना चाहिए। इससे आपका सरदर्द तो गायब होगा ही साथ में आप तरोताज़ा भी महसूस करेंगे।

तेल मालिश

सरदर्द में तेल की मालिश बहुत असरदार होती है। मालिश से सिर की रक्त धमनियों में रक्त प्रवाह सही से होने लगता है और सरदर्द तुरंत छू-मंतर हो जाती है। ध्यान रहे सिर की मालिश हर्बल तेल से ही करें और सरदर्द होने पर तेल को हल्का गर्म कर लेना चाहिए ताकि यह जल्दी असर करे।

नींबू पानी

काफी मात्रा में शराब पीने से अक्सर लोगों को हैंगओवर हो जाता है। हैंगओवर में काफी तेज सरदर्द होता है। ऐसी स्थिति में नींबू पानी काफी काम करता है। शराब ज्यादा पीने से शरीर में पानी की कमी हो जाती है और नींबू पानी पीने से शरीर में पानी की कमी भी दूर होती है और सरदर्द भी ठीक होता है।