द्रोपदी मुर्मू होंगी राजग की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को देश में होने वाले 16वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए झारखंड की पूर्व राज्यपाल श्रीमती द्रोपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी और भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा की अध्यक्षता में आज देर शाम यहां पार्टी के केंद्रीय कार्यालय में हुई भाजपा संसदीय दल की बैठक में यह फैसला लिया गया।

बैठक के बाद भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आज की संसदीय बोर्ड की बैठक में हम सभी लोग इस मत पर आए कि भाजपा और राजग अपने सभी घटक दलों के साथ बातचीत करते हुए हम राष्ट्रपति के लिए अपना प्रत्याशी घोषित करें।


उन्होंने कहा कि पहली बार किसी आदिवासी महिला उम्मीदवार को प्राथमिकता दी गई है। राजग की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को घोषित किया गया है।

श्रीमती मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा में एक आदिवासी परिवार में हुआ। उन्होंने रमादेवी वूमेंस यूनिवर्सिटी से उच्च शिक्षा प्राप्त की। वह 17 मई 2015 से 2021 तक झारखण्ड की राज्यपाल रही। वह झारखंड की पहली महिला राज्यपाल थी। वह पहली ओडिशा की नेता जिन्हें राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया था।

इससे पहले वह वर्ष 2000 से 2009 तक ओडिशा विधानसभा की सदस्य रही। ओडिशा के मयूरभंज जिले की रहने वाली द्रौपदी मुर्मू ओडिशा में दो बार रायरंगपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की विधायक रही। वह राज्य सरकार में मंत्री भी रही। वह 1997 में ओडिशा में भाजपा के आदिवासी मोर्च की उपाध्यक्ष थी।

उल्लेखनीय है कि विपक्ष की ओर से तृणमूल कांग्रेस के नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया गया हैं।

यह भी पढ़ें:-

रेप के बढ़ते मामलों के कारण पाकिस्तान के पंजाब में लगी इमरजेंसी