रोजाना एक गिलास छाछ पीने से होंगे ये चमत्कारी लाभ

ऐसा कहा जाता है की जिस प्रकार देवताओं में अमृत ही जीवन है, ठीक उसी प्रकार मनुष्यों के लिए भी छाछ अमृत की समान होता है। इसके नियमित सेवन से कोई रोगी नहीं होता और न ही छाछ के सेवन से नष्ट हुए रोग कभी दोबारा उत्पन्न होते हैं। छाछ पीने वाला व्यक्ति पूरी तरह सुदृढ़ शरीर वाला, पुष्ट, बलवान और संतुष्ट रहकर कामदेव से भी ज्यादा रूपवान होकर सौ वर्षों तक जीता है। तो आइये जानते है छाछ से होने वाले ये महत्वपूर्ण फायदे।

# छाछ पीने से मोटापा अत्यधिक कम हो जाता है। छाछ में काला नमक और अजवाइन मिलाकर पीने से मोटापा बहुत अधिक कम होता है।

# छाछ में सेंधानमक, भुना हुआ जीरा तथा कालीमिर्च पीसकर पूरी तरह मिलाकर सेवन करने से अजीर्ण (भूख न लगना) स्वतः दूर हो जाता है।

# एक गिलास छाछ में आठ पिसी हुई कालीमिर्च और अपनी स्वादानुसार पिसी हुई मिश्री मिलाकर हर दो घण्टे से पाँच बार में लगभग पाँच गिलास छाछ पीने से अम्लपित्त पूरी तरह ठीक हो जाता है। पेट दर्द भूखे होने पर हो तो छाछ पीने से यह दर्द बहुत जल्द ठीक हो जाता है।

# छाछ में पिसी हुई अजवाइन को मिलाकर पीने से कब्ज पूरी तरह दूर हो जाती है।

# एक दिन जलेबी खायें। इससे पेट के कीड़े पूरी तरह एकत्रित हो जायेंगे। दूसरे दिन से एक गिलास छाछ में नमक मिलाकर प्रतिदिन पियें।

# एक गिलास छाछ में सेंककर पिसा हुआ जीरा एक चम्मच, पिसी हुई कालीमिर्च आधी चम्मच और स्वादानुसार नमक मिलाकर प्रतिदिन चार बार पियें। पेट के कृमि निकल जायेंगे।

# गाय के दूध की छाछ में तकरीबन 10 ग्राम जवाखार मिलाकर पीने से पथरी गलकर पूरी तरह निकल जाती है।

# छाछ में नमक डालकर पीने से लू लगने से पूरी तरह बचा जा सकता है।

# छाछ में अजवायन का चूर्ण मिलाकर पीने से पेट के कीड़े पूरी तरह मर जाते हैं।

यह भी पढ़ें:

एल्युमिनियम फॉयल में पैक खाना बनता है इन गंभीर बीमारियों का कारण!

कमर दर्द से हैं परेशान, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे