गर्भावस्था के दौरान जितना हो सके, सकारात्मक विचार लाएं और योग का लें सहारा !

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के भीतर कई तरह के बदलाव होते हैं। यह बदलाव सिर्फ शारीरिक ही नहीं होते, बल्कि मानसिक स्तर पर भी कई तरह के परिवर्तन होते हैं। इस दौरान होने वाले मूड स्विंग्स के चलते अक्सर महिलाएं उदास रहती हे। जिसका प्रभाव आपके होने वाले बच्चे पर भी पड़ता है। तो चलिए जानते हैं गर्भावस्था में खुद को पाॅजिटिव रखने के आसान उपायों के बारे में-

गर्भावस्था के दौरान जितना हो सके, सकारात्मक विचार लाएं। कोशिश करें कि आप अपने आने वाले बच्चे के बारे में अच्छी-अच्छी बातें सोचें।

वहीं खुद को रिलैक्स रखने के लिए आप योग व मेडीटेशन आदि का सहारा लें। इससे आपका दिमाग शांत होगा और दिमाग में गलत विचार नहीं आएंगे।

अमूमन महिलाए इस समय अधिकतर लेटी रहती हैं लेकिन शारीरिक गतिविधि की कमी से दिमाग में नकारात्मकता भी आती है। इसलिए खुद को सक्रिय रखने का प्रयास करें।

अक्सर इस समय महिलाओं को नींद कम आती है, जिससे उनका स्वास्थ्य प्रभावित होता है और वह चिड़चिड़े भी रहते हैं। इसलिए कोशिश करें कि आप पर्याप्त नींद लें।

इस दौरान अच्छा संगीत सुने या अपनी मनपसंद किताबें पढ़े या फिर कुछ काॅमेडी शो आदि दें। इससे आपका मूड अच्छा होता है।

 

यह भी पढ़ें-

एंटी एजिंग से बचाता है ड्रैगन फ्रूट, जानें इसके अन्य लाभ