कर्नाटक और झारखंड में महसूस हुए भूकंप के झटके, एक्सपर्ट्स बोले, कोई बड़ा खतरा नहीं

शुक्रवार सुबह कर्नाटक और झारखंड में भूकंप के झटके महसूस किए गए। कर्नाटक के हम्पी में आज सुबह 06:55 बजे 4.0 की तीव्रता का भूकंप आया। वही झारखंड के जमशेदपुर में भी 4.7 की तीव्रता वाला भूकंप आया। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी की जानकारी के मुताबिक दोनों जगह भूकंप एक ही समय पर महसूस किया गया। इससे पहले दिल्ली से सटे नोएडा में बीते बुधवार की रात भूकंप के झटके महसूस किए गए थे, जिसकी तीव्रता 3.2 तक मापी गई थी।

दिल्ली-एनसीआर में भी 29 मई को भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। लॉकडाउन के दौरान दिल्ली में करीब पांच बार भूकंप आ चुका है। भूकंप विशेषज्ञों का मानना है कि इनसे अधिक खतरा नहीं है बल्कि ये छोटे-छोटे भूकंप बड़े भूकंप की आशंका को कम कर सकते है। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के निदेशक बीके बंसल कहते है कि दिल्ली-एनसीआर और उत्तर भारत में कई फाल्ट लाइनें गुजरती है, जिनमें हलचल होने से ऊर्जा निकलती है और भूकंप आते है।

बीके बंसल बताते है कि ये हलचल पहली बार नहीं है। पहले भी ऐसी हलचल देखी जा चुकी है। तब भी छोटे भूकंप ही ज्यादा थे। उन्होंने बताया कि पिछले 10 सालों में इस क्षेत्र में करीब 280 छोटे भूकंप आ चुके है। इन भूकम्पों की तीव्रता दो से नीचे थी और 70-80 भूकंप तीन-चार के बीच के थे। बंसल ने वताया कि छोटे भूकंप बड़े भूकंप के खरे को कम करने में मददगार होते है। जिन क्षेत्रों में 100 सालों से भूकंप नहीं आया वहां बड़े भूकंप की आशंका ज्यादा होगी।

यह भी पढ़े: इंटरनेशनल टीका गठबंधन को वैक्सीन बनाने के लिए डेढ़ करोड़ डॉलर देगा भारत- PM मोदी
यह भी पढ़े: नागिन 5′ का पहला लुक इंटरनेट पर हुआ वायरल, फैंस ने पूछा अब कौन होगी नई नागिन ?