ऐसे खाएं आंवलाअगर आपको भी है ये वाली दिक्कत

These gooseberries were harvested from an organic residential garden in Nova Scotia, Canada.

Ayurved की माने तो महिलाओं का स्‍वास्‍थ्‍य सीधे तौर पर उनके मासिक धर्म से जुड़ा हुआ है।

नियमित मासिक धर्म सिर्फ गर्भधारण या गर्भावस्था के लिए ही नहीं है। इस प्रक्रिया से हमें अपने शरीर से विषाक्‍त पदार्थों को निकालने में भी बहुत मदद मिलती है। आयुर्वेद में आमले का प्रयोग हजारों सालों से औषधीय प्रयोगों के लिये किया होता रहा है। आमले का उपयोग करना बहुत ही आसान है। आप चाहें तो गर्मियों में इसका प्रयोग पावडर के रूप में पित्‍त दोष को कम करने के लिये अवश्य कर सकती हैं। इसे मासिक धर्म में भी हमेसा प्रयोग किया जा सकता है।
आंवला खाने से पाचन क्रिया बहुत ही दुरुस्‍त बनी रहती है तथा मेटाबॉलिज्‍म बढ़ता है। अगर महिलाएं इसका नियमित सेवन करेंगी तो उनकी त्‍वचा चमकदार, आंखों में चमक, बालों में मजबूती आएगी तथा मूड स्‍विंग भी नहीं होगा।

यह भी पढ़ें –

हो सकते हैं बीमार खाने की आदतों में अचानक बदलाव से