खाएं पपीता, कैंसर का खतरा भी होंगा बहुत कम

पपीता एक ऐसा फल है जो हर मौसम में आसानी से उपलब्ध होता है। इसका सेवन हमे बीमारियों से बचाता है। हालांकि अधिकतर पपीते को फल के रूप में खाया जाता है पर इसकी सब्जी भी काफी स्वादिष्ट होती है। कच्चा और पका पपीता दोनों स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते है।

पोटैशियम : हरे पपीते में पके पपीते की तुलना में पोटैशियम की मात्रा ज्यादा होता है। इसलिए हरे पपीते का सेवन करें।

गर्भावस्था में ना खाएं पपीता : फ्लूड पके पपीते में ज्यादा पाया जाता है, इस से एलर्जी और त्वचा में खुजली होने की संभावना ज्यादा होती है इसलिए गर्भावस्था में इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

इस समय करें सेवन : बच्चे के जन्म के बाद अधिकतर महिलाएं कच्चे पपीते की सब्जी खाती हैं क्योंकि इससे मां के दूध में वृद्धि होती है।

कोलेस्ट्रोल : पके पपीते में फाइबर और विटामिन अधिक मात्रा में पाए जाते है। इसमें मौजूद विटामिन तनाव को दूर करता है और कोलेस्ट्रोल को भी नियंत्रण में रखता है।

कैंसर : कच्चा पपीता खाने से कैंसर का खतरा कम होता है।

पाना चाहते हैं खूबसूरत आंखें? अपनाएं ये आसान टिप्स…