जमीन पर बैठकर भोजन करने से दूर होती है कई बीमारियां

आज के समय में लोग डाइनिंग टेबल पर बैठकर खाना खाने को सभ्यता मानते हैं। वहीं अगर आपको कोई जमीन पर बैठकर खाना खाते हुए दिख जाए तो आप उसे असभ्य मानते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि वास्तव में जमीन पर बैठकर खाना खाने से आपको अद््भुत लाभ प्राप्त होते हैं। तो चलिए जानते हैं इन लाभों के बारे में-

इस तरीके से बैठने से आपकी रीढ़ की हड्डी के निचले भाग पर जोर पड़ता है, जिससे आपके शरीर को आरामदायक अनुभव होता है। इससे आपकी सांस थोड़ी धीमी पड़ती है, मांसपेशियों का खिंचाव कम होता है और रक्तचाप में भी कमी आती है।

भोजन करने के लिए जब आप पद्मासन में बैठते हैं तब आपके पेट, पीठ के निचले हिस्से और कूल्हे की मांसपेशियों में लगातार खिंचाव रहता है जिसकी वजह से दर्द और असहजता से छुटकारा मिलता है। इस मांसपेशियों में अगर ये खिंचाव लगातार बना रहेगा तो इससे स्वास्थ्य में सुधार देखा जा सकता है।

जमीन पर बैठना और उठना, एक अच्छा व्यायाम माना जाता है। भोजन करने के लिए तो आपको जमीन पर बैठना ही होता है और फिर उठना भी, अर्ध पद्मासन का ये आसन आपको धीरे-धीरे खाने और भोजन को अच्छी तरह पचाने में सहायता देता है।

यह भी पढ़ें-

क्या आप भी सर्वाइकल पेन से हैं परेशान? अपनाएं ये घरेलू नुस्खे