गर्भावस्था में पैरासिटामॉल खाना है सेहत के लिए बहुत नुकशानदायक

महिलाएं गर्भावस्था के दौरान आमतौर पर पैरासिटामॉल का बहुत ज्यादा इस्तेमाल करती हैं। लेकिन, अब इसके प्रयोग को लेकर बहुत ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है। स्पेन के शोधकर्ताओं ने अपने तरह के पहले अध्ययन में पैरासिटामॉल का संतान पर पडऩे वाले बहुत ही गंभीर प्रतिकूल प्रभावों का पता लगाया है। अध्ययन के मुताबिक, गर्भावस्था में इसके सेवन से संतान में आगे चलकर ऑटिज्म की आशंका भी बहुत बढ़ जाती है।

लड़के और लड़कियों पर इसका प्रभाव बहुत अलग-अलग होता है। वैज्ञानिकों ने बताया कि पैरासिटामॉल का सेवन करने वाली महिलाओं के संतान में इस बीमारी का खतरा 30 फीसदी तक ज्यादा रहता है।

इसके अलावा, हाइपरएक्टिविटी और आवेग की शिकायत भी बहुत ज्यादा रहती है। विशेषज्ञों ने बच्चों के एकऔर पांच साल के होने पर दो बार जांच पड़ताल की थी। गर्भावस्था में आठ महीनों के दौरान पैरासिटामॉल का इस्तेमाल करनी वाली महिलाओं को अध्ययन में भी शामिल किया गया था।

Loading...