प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने बालिका गृह कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के आवास पर चिपकाया नोटिस

मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले मे प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने ब्रजेश ठाकुर के समस्तीपुर शहर के ताजपुर रोड मनोरमा लेन स्थित मकान पर नोटिस चिपकाया है। पटना से आई टीम लगभग आधे घंटे तक वहाँ रही। टीम ने वहाँ रुककर अपनी कार्रवाई पूरी की। इस दौरान मकान में रह रहे कुछ किरायेदारों से भी पूछताछ की गयी। ईडी के टीम ने जो नोटिस चिपकाया है उसमे मनी लॉड्रिंग से संबंधित बातों का जिक्र है।

गौरतलब हो कि ब्रजेश और उसके परिवार के सदस्यों सहित अन्य लोगों को धनशोधन निवारण कानून (PMLA) के तहत दंडित करने तथा 8.3 करोड़ रुपये की कुर्क संपत्ति जब्त करने के लिए अदालत में आरोप पत्र दायर किया गया था। बालिका गृह कांड का मामला उजागर होने के बाद यह दूसरी दफा है जब ईडी द्वारा ब्रजेश ठाकुर के आवास पर नोटिस चिपकाया गया है। इससे पूर्व भी एक बार यहां ईडी नोटिस चिपका कर गयी थी। ईडी की टीम के जाते ही पूरे ताजपुर रोड में तरह-तरह की चर्चाओ का बाज़ार गरम रहा।

ईडी ने इस मामले में महिला पुलिस थाना, मुजफ्फरपुर और सीबीआइ द्वारा दर्ज प्राथमिकी के आधार पर पीएमएलए के प्रावधानों के तहत जांच शुरू की थी। ईडी ने अपनी जांच में पाया था कि ब्रजेश ठाकुर द्वारा संचालित गैर सरकारी संगठन ‘सेवा संकल्प विकास समिति’ और अन्य संगठनों के नाम पर सरकार तथा अन्य एजेंसियों से प्राप्त धन राशि का अन्य लोगों के मिलीभगत से गलत उपयोग हुआ है।